ताज़ा खबर
 

‘चीन के बहिष्कार’ का अभियान पकड़ रहा रफ्तारः चाइनीज खिलौने बेचने वाली दुकान पर BJP युवा इकाई के कार्यकर्ताओं का हंगामा, सामान फेंक कर दिया चकनाचूर

बीजेपी युवाई इकाई के सदस्यों ने दुकानदार से जाकर चीनी सामान और खिलौने मांगे थे, जिसके बाद उसने बिना किसी आपत्ति के चाइनीज उत्पाद उन्हें थमा दिए। कहा जा रहा है कि ये कार्यकर्ता 10-12 की संख्या में थे, जिन्हें देखकर शायद डर के मारे दुकानदार ने सामान उनके हवाले कर दिया होगा।

India, China, Galwan, Ladakh, Galwan Valley Clashइसी बीच, पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में शनिवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का पुतला जताले हुए बीजेपी कार्यकर्ता। (PTI)

भारत और चीन के बीच लद्दाख की गलवान घाटी में हुई खूनी झड़प के बाद देश में चीन के उत्पाद और तकनीक के बहिष्कार की मांग से जुड़ा अभियान रफ्तार पकड़ चुका है। चीन और वहां की कंपनियों को अब भारत में आम लोगों द्वारा बटुए से सबक सिखाने की बात पर बल दिया जा रहा है। इसी बीच, शनिवार को महाराष्ट्र में मुंबई स्थित मलाड में भारतीय जनता पार्टी युवा इकाई के कुछ कार्यकर्ताओं ने चाइनीज खिलौने बेचने वाले एक दुकानदार के यहां जाकर हंगामा काटा। इन लोगों ने वहां चीनी सामान को शॉप से बाहर फेंका और उसे कुचलकर चकनाचूर कर दिया।

अंग्रेजी न्यूज चैनल ‘टाइम्स नाऊ’ की रिपोर्ट के मुताबिक, बीजेपी युवाई इकाई के सदस्यों ने दुकानदार से जाकर चीनी सामान और खिलौने मांगे थे, जिसके बाद उसने बिना किसी आपत्ति के चाइनीज उत्पाद उन्हें थमा दिए। कहा जा रहा है कि ये कार्यकर्ता 10-12 की संख्या में थे, जिन्हें देखकर शायद डर के मारे दुकानदार ने सामान उनके हवाले कर दिया होगा।

देखें VIDEO:

इसी बीच, पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में शनिवार को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का पुतला जताले हुए बीजेपी कार्यकर्ता। दरअसल, लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प में देश के 20 जवान शहीद हो गए थे, उसी के विरोध में इन कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया और चीन के उत्पादों का बहिष्कार करने पर बल दिया।

MNS कार्यकर्ताओं ने निर्माण स्थल पर चीनी भाषा में लगाए साइनबोर्ड पर किया प्रदर्शनः ठाणे के बालकुम इलाके में शुक्रवार शाम को एक निर्माण स्थल पर 20 से अधिक मनसे कार्यकर्ता जमा हुए। मनसे की ठाणे और पालघर जिला इकाइयों के अध्यक्ष अविनाश जाधव ने बताया कि यह प्रदर्शन चीन की एक कंपनी के खिलाफ किया गया, जिसने निर्माण स्थल पर चीनी भाषा में एक साइनबोर्ड लगा रखा था। प्रदर्शनकारियों ने चीन विरोधी नारे भी लगाए। जाधव ने कहा कि जब तक सीमा विवाद का हल नहीं निकल जाता, चीनी कंपनी को यहां कोई कारोबार नहीं करना चाहिए और साइनबोर्ड जल्द से जल्द हटाया जाना चाहिए।

ग्रेनो में ओप्पो कंपनी के गेट पर हिंदू रक्षा दल ने किया प्रदर्शन, केसः भारत-चीन सीमा पर बढते तनाव एवं भारतीय सैनिकों की शहादत से आक्रोशित हिंदू रक्षा दल के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने शनिवार को ग्रेटर नोएडा में ओप्पो मोबाइल फोन बनाने वाली चीनी कंपनी के बाहर प्रदर्शन किया। उसके बाद पुलिस ने हिंदू रक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत 30 लोगों के खिलाफ लॉकडाउन तथा धारा 144 के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह के मीडिया प्रभारी पंकज कुमार ने बताया कि शनिवार को ओप्पो कंपनी के गेट पर हिंदू रक्षा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र तोमर उर्फ पिंकी चौधरी और जिला संयोजक गौतम बुद्ध नगर प्रवीण कुमार 30-35 व्यक्तियों के साथ बिना किसी अनुमति के एकत्र हो गए। उन्होंने जमकर हंगामा किया तथा नारेबाजी की।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 PM Garib Kalyan Yojana लॉन्च, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे बोले- बिहार के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगी
2 यूपी की अर्थव्यवस्था को पांच गुणा बढ़ाकर एक ट्रिलियन डॉलर बनाने के लिए कंसल्टेंट ढूंढ रही योगी सरकार, RFP निकाला
3 10वीं की किताब में बताया महाराणा प्रताप में थी धैर्य, संयम और योजना की कमी, राजस्थान सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड करेगा जांच
ये पढ़ा क्या...
X