ताज़ा खबर
 

20 करोड़ का घूस लेने में पकड़े गए थे बीजेपी के पूर्व मंत्री, सहयोगी रह चुका शख्स बोला- लौटा दूंगा रकम

पुलिस का आरोप है कि 20 करोड़ की घूस लेने में अली ने बिचौलिए की भूमिका निभाई। घूस के इस रकम की डील मार्च 2018 में एंबियंट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड के मालिक सैयद अहमद फरीद और जनार्दन रेड्डी के बीच हुई थी।

Author November 14, 2018 10:11 AM
जी.जनार्दन रेड्डी। (एक्सप्रेस फोटो)

हाल ही में बेंगलुरु पुलिस ने पूर्व बीजेपी मंत्री जी जर्नादन रेड्डी और उनके सहयोगी को गिरफ्तार किया था। उन पर एक वित्तीय सेवाएं मुहैया कराने वाली कंपनी से 20 करोड़ रुपये की घूस लेने का आरोप लगा था। इस कंपनी पर सैकड़ों निवेशकों के 600 करोड़ से ज्यादा की रकम हड़पने का आरोप है। पुलिस का कहना है कि कंपनी ने यह पैसा अपने खिलाफ चल रही ईडी की जांच को बंद करवाने के लिए दिया। अब रेड्डी के सहयोगी ने 20 करोड़ रुपये की रकम लौटाने की पेशकश की है। उसका दावा है कि उसने कंपनी से यह रकम सिर्फ उधार के तौर पर ली थी।

जनार्दन रेड्डी की जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान मजिस्ट्रेट के सामने पेश हलफनामे में पूर्व मंत्री के निजी असिस्टेंट रह चुके महफूज अली ने एमबियंट मार्केटिंग प्राइवे लिमिटेड के मालिकों को पैसा लौटाने की बात कही। पुलिस का आरोप है कि 20 करोड़ की घूस लेने में अली ने बिचौलिए की भूमिका निभाई। घूस के इस रकम की डील मार्च 2018 में एंबियंट मार्केटिंग प्राइवेट लिमिटेड के मालिक सैयद अहमद फरीद और जनार्दन रेड्डी के बीच हुई थी। अपने हलफनामे में अली ने कहा कि उसने कंपनी से 18 करोड़ रुपये कीमत वाला 57 किलोग्राम सोना लिया। इसका मसकद निजी जीवन में चल रही बाधाओं को दूर करने के लिए धार्मिक गतिविधियां थीं। अली का यह भी दावा है कि उसने कंपनी के मालिक को उसके नाम पर सोने की खरीदारी करने के लिए कहा था।

इस बीच, जनार्दन रेड्डी की पुलिस कस्टडी की मांग वाली रिमांड एप्लिकेशन में क्राइम ब्रांच ने कहा कि रेड्डी ने माना है कि अली ने एमबियंट मार्केटिंग से 57 किलो सोना हासिल किया। क्राइम ब्रांच के मुताबिक, रेड्डी ने अपने सहयोगी को कहा कि वह कंपनी को वह सोना लौटा दें ताकि उससे धोखा खाए निवेशकों के पैसों की भरपाई की जा सके। क्राइम ब्रांच ने बताया कि रेड्डी ने कंपनी के मालिक सैयद अहमद फरीद के साथ इस साल की शुरुआत में एक फाइव स्टार होटल में मीटिंग की थी। फरीद के मुताबिक, रेड्डी ने उनकी कंपनी के खिलाफ चल रहे ईडी के एक मामले को रफादफा करने के लिए 25 करोड़ रुपये मांगे। पुलिस के मुताबिक, फरीद ने 20 करोड़ रुपये देने की पेशकश की और रेड्डी ने भुगतान सोने के रूप में करने को कहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App