ताज़ा खबर
 

तेल के रेट बढ़ रहे, पर कभी गौर नहीं किया…क्या करना चाहिए इस पर सोचा नहीं गया- साफगोई से बोले बिहार CM नीतीश कुमार

फरवरी में भी सीएम कुमार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि पर टिप्पणी करने से परहेज किया था। कहा था कि यह सच है कि कीमतें बढ़ रही हैं और यह स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है।

बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू चीफ ने यह बयान पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में दिया। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटो)

तेल के बढ़ते दाम से एक ओर देश के लोग हलकान हैं, वहीं सरकारें भी इस चुनौती से निपटने के दौरान परेशान नजर आ रही हैं। इसी बीच, बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइडेट (जेडीयू) प्रमुख नीतीश कुमार ने कहा कि इस मसले पर क्या करना चाहिए? इस पर सोचा ही नहीं गया।

उन्होंने यह बयान पूरी साफगोई के साथ पत्रकारों के साथ सोमवार को जनता दरबार की प्रेस ब्रीफिंग के दौरान दिया। पेट्रोल और डीज़ल के बढ़ते भाव से परेशान लोगों को आश्वासन देते हुए वह बोले कि जल्द ही उनकी परेशानी का समाधान निकालने के लिए कुछ सोचेंगे। उन्होंने आगे कहा, “पेट्रोल और डीजल के बढ़ते भाव पर विचार नहीं किया था, लेकिन जल्द ही कोई समाधान निकालेंगे।”

कुमार से एक पत्रकार ने पूछा था कि क्या लोगों की सहयता करने के लिए पेट्रोलियम से बने प्रोडक्ट पर टैक्स कम किया जाएगा? सीएम बोले, “वे अखबार में बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दाम की खबरें पढ़ रहे हैं और अब गंभीरता से विचार करेंगे।” उन्होंने कहा कि पेट्रोल से बने उत्पादों पर टैक्स घटाने के सवाल को वो सुझाव के रूप में लेंगे।

बता दें कि फरवरी में भी सीएम कुमार ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में वृद्धि पर टिप्पणी करने से परहेज किया था। कहा था कि यह सच है कि कीमतें बढ़ रही हैं और यह स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है। देश में डीजल और पेट्रोल की बढ़ती कीमतों पर एक सवाल के जवाब में तब बिहार सीएम बोले थे, “अगर कीमतें नहीं बढ़ती हैं तो हर कोई इसे पसंद करेगा लेकिन अभी कीमतें बढ़ रही हैं। हर कोई इसे देख सकता है।”

Next Stories
1 बिहार में बेखौफ बदमाश, जदयू नेता की गर्भवती बेटी की गोली मारकर हत्या
2 केरल में कोरोना के बीच बकरीदः SC की विजयन सरकार को फटकार- आप लोगों की जिंदगी से नहीं कर सकते हैं खिलवाड़
3 7th Pay Commission लागू करे सरकार, नहीं तो करेंगे आंदोलन- इन कर्मचारियों ने चेताया
ये पढ़ा क्या?
X