ताज़ा खबर
 

पकड़ा था 160 किलो मारिजुआना, घूस लेकर रिकॉर्ड में दिखाया सिर्फ 1 किलो; दिल्ली पुलिस के 2 एसआई, दो हेड कॉन्स्टेबल सस्पेंड

उत्तर दिल्ली के जहांगीरपुरी पुलिस थाने में तैनात दो सब-इंस्पेक्टरों और दो कांस्टेबलों को एक स्थानीय ड्रग पेडलर से जब्त किए गए मारिजुआना की मात्रा के संबंध में गलत जानकारी देने पर निलंबित कर दिया गया है।

Author Edited By सिद्धार्थ राय नई दिल्ली | Updated: September 27, 2020 8:09 PM
delhi police, weed मारिजुआना की मात्रा के संबंध में गलत जानकारी देने पर चार पुलिसकर्मी निलंबित। (प्रतीकात्मक)

देश की राजधानी दिल्ली से एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने पुलिस की ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा पर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। उत्तर दिल्ली के जहांगीरपुरी पुलिस थाने में तैनात दो सब-इंस्पेक्टरों और दो कांस्टेबलों को एक स्थानीय ड्रग पेडलर से जब्त किए गए मारिजुआना की मात्रा के संबंध में गलत जानकारी देने पर निलंबित कर दिया गया है।

पुलिस के अनुसार, 11 सितंबर को जहांगीरपुरी पुलिस स्टेशन की एक टीम द्वारा एक छापेमारी की गई थी, जिस दौरान लगभग 160 किलोग्राम मारिजुआना जब्त किया गया था और पुलिस चौकी लाया गया था। हालांकि, निलंबित पुलिसकर्मियों ने आरोपी के परिवार से मामले को रफा-दफा करने को लेकर रिश्वत लेने के बाद कथित तौर पर केवल 1 किलोग्राम ड्रग मिलने की जानकारी दी और बाकी को बेच दिया। मामला वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के संज्ञान में आने पर जांच के आदेश दिए गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “पूछताछ के बाद चारों पुलिसकर्मियों पर संदेह हुआ।”

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 11 सितंबर को जहांगीरपुरी थाने के दो उप निरीक्षक और दो हेड कांस्टेबलों ने गुप्त सूचना के आधार पर ब्लॉक-बी स्थित एक घर में दबिश दी थी। उस दौरान पुलिस ने वहां से कुल 160 किलो गांजा बरामद करते हुए अनिल कुमार नाम के पैडलर को हिरासत में लिया था। इसके बाद पुलिसर्मियों ने पैडलर से मामले का निपटारा करने के लिए 1.50 लाख रुपये की रिश्वत ले ली और बाद में उसे छोड़ दिया और 159 किलो गांजा बाजार में ब्लैक में बेच दिया।

उत्तर-पश्चिम दिल्ली के पुलिस उपायुक्त विजयंत आर्य ने बताया कि मामले का खुलासा होने के बाद आरोपी दोनों उप निरीक्षक और दो हैड कांस्टेबलों को निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा सहायक पुलिस आयुक्त (ऑपरेशंस) के नेतृत्व में आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ उच्च स्तरीय विभागीय जांच की जा रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 VIDEO: कहां खफा हैं चिराग, इतना हंसमुख चेहरा है, प्यार से बोलते हैं; एलजेपी की नाराजगी पर बोले केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह
2 सुरक्षा बलों से बचने के लिए शौचालय के नीचे बंकर बना छुप रहे आतंकवादी, पता लगाने को ड्रोन का इस्तेमाल कर रही सेना
3 जदयू में शामिल हुए पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे, CM नीतीश ने मंत्री अशोक चौधरी को बनाया पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष
यह पढ़ा क्या?
X