ताज़ा खबर
 

मोदी-शाह के बेहद करीब थे बीजेपी के सबसे कद्दावर नेताओं में शुमार जेटली, ऐसा रहा उनका सियासी करियर

Arun Jaitley Death News: अरुण जेटली वित्त मंत्री होने के साथ-साथ कॉर्पोरेट अफेयर्स रहे। इसके अलावा वे रक्षा मंत्रालय, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री, कानून एवं न्याय मंत्री भी रहे।

Author नई दिल्ली | Updated: October 11, 2019 8:15 AM
अरुण जेटली (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

Former Union Finance Minister Arun Jaitley Dead in AIIMS: बीजेपी के सबसे अनुभवी और कद्दावर नेताओं में शुमार अरुण जेटली कई दशकों से भारतीय राजनीति में सक्रिय थे। वे अटल और मोदी सरकार में कई अहम पदों पर रहे। केंद्रीय मंत्रिमंडल में कई अहम जिम्मेदारियां निभाने वाले जेटली कभी लोकसभा चुनाव नहीं जीत पाए थे। अप्रत्यक्ष करों के एकीकरण के रूप में जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) लागू करना उनके कार्यकाल की सबसे बड़ी उपलब्धियों में शुमार है। वे डीडीसीए (Delhi & District Cricket Association) के अध्यक्ष भी थे। 1974 में वे दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के अध्यक्ष भी बने।

मोदी-अटल सरकार में जेटली की जिम्मेदारियां: अरुण जेटली वित्त मंत्री होने के साथ-साथ कॉर्पोरेट अफेयर्स रहे। इसके अलावा वे रक्षा मंत्रालय, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री, कानून एवं न्याय मंत्री भी रहे। इसके अलावा अरुण जेटली ने अटल बिहारी वाजपेयी और नरेंद्र मोदी की सरकार में कई अहम समितियों की जिम्मेदारियां निभाईं। खराब सेहत के चलते उन्होंने पिछला लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। 2014 के लोकसभा चुनाव में वे अमृतसर से चुनाव लड़े थे लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

Arun Jaitley Demise: मोदी सरकार में वित्त मंत्री रहे सीनियर BJP नेता का निधन, AIIMS में ली अंतिम सांस

लालकृष्ण आडवाणी के इस्तीफे के बाद 16 जून 2009 को यूपीए सरकार के दौरान वे राज्य सभा में नेता प्रतिपक्ष भी रहे। इसके अलावा उन्होंने महिला आरक्षण बिल (Women Reservation Bill), तीन तलाक कानून समेत कई अहम मुद्दों पर भी उन्होंने अहम भूमिका निभाई।

National Hindi News, 24 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

Weather Forecast for States Today Live Updates: मौसम से जुड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

जीएसटी सबसे बड़ी उपलब्धिः अरुण जेटली का सियासी करियर उपलब्धियों से भरा रहा है। उनकी सबसे प्रमुख उपलब्धियों में जीएसटी (Goods and Service Tax) और नोट बंदी (Demonetization) लागू करना, रेल और आम बजट का एकीकरण करना, सरकारी बैंकों का विलय, Ease of Doing Business पर उनका योगदान बेहद महत्वपूर्ण रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 निगम बोध घाट पर हुआ जेटली का अंतिम संस्कार, सियासत के तमाम दिग्गज पहुंचे
2 ‘राम प्रतिमा की ऊंचाई आधी कर दो, साथ में सीता की भी लगाओ’, सीनियर कांग्रेस नेता करण सिंह UP CM योगी आदित्यनाथ से की मांग
3 ओडिशा, केरल, कर्नाटक, MP-UP में भारी बारिश की चेतावनी, दिल्ली में ऐसा रहेगा वीकेंड