ताज़ा खबर
 

पूर्व RAW प्रमुख बोले- एयर स्ट्राइक का फायदा न उठाएं राजनीतिक पार्टियां, यह राष्ट्रीय सुरक्षा का मुद्दा

रॉ (के पूर्व प्रमुख एएस दुलत ने पुलवामा आतंकी हमले का राजनीतिक मसकद से इस्तेमाल न करने की बात कही। इस दौरान उन्हाेंने कहा कि यह देश की सुरक्षा का मामला है। इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

Author Updated: March 5, 2019 1:09 PM
ए.एस. दौलत, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

रॉ (रिसर्च एंड एनालिसिस विंग) के पूर्व प्रमुख एएस दुलत ने सभी राजनीतिक दलों को हिदायत दी है कि वे एयर स्ट्राइक का राजनीतिक लाभ न उठाएं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक राष्ट्रीय सुरक्षा का मुद्दा है, राजनीतिक मुद्दा नहीं। बता दें कि पूर्व रॉ प्रमुख का यह बयान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के उस बयान के बाद आया, जिसमें उन्होंने 250 आतंकवादियों की मौत का जिक्र किया था।

क्या बोले रॉ के पूर्व प्रमुख?: एनडीटीवी से बातचीत के दौरान एएस दुलत ने कहा- राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर कोई भी राजनीति नहीं होनी चाहिए। इस देश की सुरक्षा आला दर्जे की है और इसका इस्तेमाल राजनीति या फिर लोकसभा चुनाव के लिए नहीं होना चाहिए। गौरतलब है कि नवजोत सिंह सिद्धू सहित विपक्ष के कई नेताओं ने आरोप लगाया है कि आगामी लोकसभा चुनावों के लिए केंद्र सरकार द्वारा युद्ध का प्रचार किया जा रहा है।

आतंकवादियों की मौत के आंकड़े बताने की जरूरत नहीं: बालाकोट में एयर स्ट्राइक के दौरान कितने आतंकियों की मौत हुई के बयान पर एएस दुलत कहते हैं कि इससे फर्क नहीं पड़ता कि 200, 250 या 300 आतंकवादी मारे गए। फर्क सिर्फ इससे पड़ता है कि भारतीय वायुसेना ने अपना काम बखूबी किया और आतंकवादियों के ठिकाने सहित कई आतंकवादियों को मार गिराया। वहीं, एयर स्ट्राइक का सबूत मांगने वालों को जवाब देते हुए दुलत ने कहा कि जब खुद पाकिस्तान कह रहा है कि एयर स्ट्राइक हुई है तो फिर सबूत मांगने का क्या मतलब बनता है?

अमित शाह ने पहली बार किया था ऐलान: बता दें कि 27 फरवरी को हुई एयर स्ट्राइक के बाद पहली बार 4 मार्च को अमित शाह ने अहमदाबाद की जनसभा में कहा था कि 250 आतंकवादी मारे गए हैं। अमित शाह ने कहा, ‘‘उरी हमले के बाद हमारी सेना पाकिस्तान गई और सर्जिकल स्ट्राइक की। पुलवामा हमले के बाद सर्जिकल स्ट्राइक नहीं की जा सकती थी तो पीएम मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने एयर स्ट्राइक की। बता दें कि भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को तड़के पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की थी। दावा किया जा रहा है कि इस कार्रवाई में 250-350 आतंकी मारे गए हैं। गौरतलब है कि भारतीय वायु सेना के प्रमुख बीएस धनोआ ने ऐसे किसी भी आंकड़े के बारे में कुछ भी नहीं कहा था। धनोआ ने कहा था कि हमारा काम है टारगेट खत्म करना है, न कि कितने मारे गए यह गिनना।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 मोदी के मंत्री बोले- राहुल गांधी देशभक्त हैं या नहीं, देश को सबूत चाहिए
2 ABVP-BJP ने घुटने पर लाकर मंगवाई थी माफी, प्रोफेसर ने कहा- दोस्‍त मुझे पागल कहने लगे हैं
3 TMC नेता का पीएम मोदी पर हमला, पूछा- क्या आप सैनिकों को बिना योजना बनाए मरने के लिए भेज रहे हैं?
जस्‍ट नाउ
X