ताज़ा खबर
 

RSS में होकर भी नेहरूवादी थे अटल बिहारी वाजपेयी- बोले दिग्विजय सिंह

मध्य प्रदेश के सीएम रहे दिग्विजय सिंह अपने ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं।

congress leaderकांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के ट्वीट सोशल मीडिया में खूब वायरल हो रहे हैं। (पीटीआई)

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और दिवंगत भाजपा नेता अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि के एक दिन बाद कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने उन्हें श्रद्धांजलि दी और कथित तौर पर भाजपा नेताओं पर निशाना साधा है। उन्होंने सोमवार (17 अगस्त, 2020) को ट्वीट कर कहा कि ‘अटल जी लोकतंत्र में विश्वास करते थे। संघ (RSS) में रहते हुए भी वे नेहरूवादी थे। उनको सादर नमन।’ एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि ‘मोदी शाह जी कहां आप की सोच और कहां अटल जी की सोच। ठीक विपरीत। वे लोकतंत्र के पुजारी थे, आप देश को एकतंत्र की ओर ले जा रहे हैं।’

ट्वीट के साथ उन्होंने पूर्व पीएम अटल का एक पुराना वीडियो भी शेयर किया है। वीडियो में वो कहते नजर आते हैं, ‘देश को स्थाई सरकार भी चाहिए और देश को जवाबदेह सरकार भी चाहिए। अगर सराकर स्थाई है मगर भ्रष्ट है। अगर सदस्यों (सांसदों) को खरीदकर बहुमत बनाती है। या अन्य तरह के लालच देकर उनका समर्थन प्राप्त करती है… तो संख्या स्थायित्व नहीं होगा… लोकतंत्र चलेगा तो किसी नैतिक आधार पर चलेगा।’

हालांकि मध्य प्रदेश के सीएम रहे दिग्विजय सिंह अपने ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए हैं। ट्विटर यूजर राम सिंह @RAMSINHZALA14 लिखते हैं, ‘नेहरूवादी नहीं थे। कांग्रेस की सोनिया गांधी की गलत सोच के हिसाब से देश ने अटलजी जैसे नेतृत्व को खोया और एक भ्रष्ट सरकार को पाया। जिसने देश के हित को हटा के सिर्फ भ्रष्टाचार किया और हिन्दू धर्म और भारत देश को नुकसान पहुंचाया। बंदर के हाथ तलवार लग गई।’ श्रीवास्त @SRIMAN_08 लिखते हैं, ‘झूठ… नेहरूवादी होते तो शशि थरूर और तुम्हारे जैसे होते। उनकी भी एक एडवीना होती।’

इसी तरह एक यूजर @theindiansss लिखते हैं, ‘किसने कहा, नेहरूवादी थे।’ मनोज @ManojSi33364852 लिखते हैं, ‘मोदी भी चुनाव जीतकर और बहुमत मिलने के बाद प्रधानमंत्री बने हैं। कोई जबरदस्ती थोड़ी बैठ गए कुर्सी पर।’ इस ट्वीट के जवाब में एक यूजर लिखते हैं, ‘मध्य प्रदेश, गोवा, मणिपुर, और कर्नाटक में कैसे बैठे कुर्सी पर ये भी बता दो भैया जी।’

हीरा @Heera51059946 लिखते हैं, ‘अटल जी ने ही कहा था कि एक वोट से सरकार गिरा कर कांग्रेस खुशी तो मना रही है मगर एक दिन ऐसा आएगा जब पूरे भारत मे बीजेपी की सरकार होगी और तब कांग्रेस पर देश की जनता हंसेगी। आज वो कथन सत्य हो रहा अटल जी तो विपक्ष मे रहते हुए नेहरूवादी रहे मगर कांग्रेस विपक्ष मे रहकर जिन्नावादी बन रही है।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अशोक चौधरी बोले- नीतीश कुमार सबसे बड़े दलित समर्थक नेता, श्याम रजक ने किया पलटवार
2 भाजपा में शामिल होंगे शरद पवार के पोते पार्थ? परिवार ने साधी चुप्पी तो बीजेपी ने दी ये सफाई
3 कोरोना काल में सैलेरी घटी, फिर भी बढ़ेगा टैक्स बोझ: कन्वेयन्स, LTA, HRA पर देना पड़ सकता है टैक्स
ये पढ़ा क्या?
X