ताज़ा खबर
 

यूपी: पूर्व विधायक, भाजपा-आरएसएस के नेताओं के खिलाफ गैंगरेप का केस दर्ज

महिलाओं द्वारा सीएम आवास के बाहर आत्मदाह का प्रयास करने के बाद रायबरेली पुलिस हरकत में आ गई है और उसने पूर्व विधायक समेत 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

उत्तर प्रदेश के रायबरेली की घटना। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में गैंगरेप के एक मामले में पूर्व विधायक, आरएसएस नेता और वाणिज्य कर कमिश्नर समेत 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। दरअसल बीते सोमवार को एक महिला अपनी दो बेटियों के साथ आत्मदाह करने सीएम आवास पहुंच गई थी। किसी तरह महिला और उसकी बेटियों को आत्मदाह के प्रयास से रोका गया। महिला का आरोप है कि पूर्व विधायक समेत कई लोगों ने उसकी मां और बहन के साथ गैंगरेप किया। लेकिन शिकायत के बावजूद पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। बहरहाल महिलाओं द्वारा सीएम आवास के बाहर आत्मदाह का प्रयास करने के बाद रायबरेली पुलिस हरकत में आ गई है और उसने पूर्व विधायक समेत 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

भाजपा-आरएसएस नेता, ब्लॉक प्रमुख तक आरोपीः पीड़िताओं की शिकायत मिलने और उच्च अधिकारियों के निर्देश के बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। एनबीटी की एक खबर के अनुसार, इस एफआईआर में डलमऊ के पूर्व विधायक गजाधर सिंह, आरएसएस नेता भानु प्रताप सिंह, महाराजगंज ब्लॉक प्रमुख सत्येंद्र सिंह और उनके जीजा विनोद सिंह, राकेश सिंह, वाणिज्य कर कमिश्नर सत्येंद्र सिंह गौतम, निखिल सिंह, लाखन सिंह, दिनेश चौधरी, अनामिका, आरबी सिंह, मिंटू सिंह, कांशी सिंह, राजेश्वरी सिंह, नीलम सिंह आरोपी बनाए गए हैं।

बता दें कि ऐसा ही गैंगरेप का मामला बीते दिनों काफी चर्चा में रहा था। जिसमें आरोपी बांगरमऊ से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर आरोपी हैं। यह मामला साल 2017 का है, जिसमें पीड़िता ने विधायक के खिलाफ गैंगरेप का मुकदमा दर्ज कराने की खूब कोशिश की, लेकिन विधायक के राजनैतिक रसूख के चलते उसकी रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई। ऐसे में मजबूरन पीड़िता ने सीएम आवास जाकर आत्मदाह का प्रयास किया। जिसके बाद पीड़िता की रिपोर्ट दर्ज की गई। हालांकि पीड़िता के पिता को विधायक के खिलाफ आवाज उठाने का खामियाजा अपनी जान देकर चुकाना पड़ा। दरअसल विधायक के भाई और उसके गुर्गों ने पीड़िता के पिता को पहले बुरी तरह पीटा और फिर झूठे मुकदमे में जेल में बंद करा दिया। लेकिन जेल में ही पीड़िता के पिता की तबीयत बिगड़ने से मौत हो गई। फिलहाल आरोपी विधायक जेल में बंद हैं और मामले की जांच जारी है।

Next Stories
1 वीडियो: ट्रेन का गार्ड नीचे घुस जोड़ रहा था एयर पाइप, तभी चल पड़ी गाड़ी, ऐसे बची जान!
Coronavirus LIVE:
X