ताज़ा खबर
 

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने सोनिया गांधी को भेजा एक लाइन का त्याग पत्र

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने नई पार्टी के गठन के बाद कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है।

Author रायपुर | June 16, 2016 5:45 AM
अजीत जोगी छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने नई पार्टी के गठन के बाद कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है। छत्तीसगढ़ के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस से बगावत कर राज्य में अलग राजनीतिक दल की घोषणा के बाद पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने आज कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया। जोगी ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक लाइन का इस्तीफा भेजा है। इस्तीफे में लिखा है, ‘‘मैं एतद्द्वारा कांग्रेस पार्टी (भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस) की प्राथमिक सदस्यता से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा देता हूं।’’

अजीत जोगी के राजनैतिक सचिव अशोक शर्मा ने बताया कि जोगी ने पूर्व में ही छत्तीसगढ़ के विकास के लिए पार्टी बनाने की घोषणा कर दी थी जिसके परिप्रेक्ष्य में उन्होंने आज विधिवत अपना इस्तीफा भेज दिया है। शर्मा ने बताया कि इस महीने की 21 तारीख को ग्राम आवाज के द्वितीय चरण में जोगी मुख्यमंत्री के गांव ठाठापुर में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करेंगे ।

जोगी ने इस दौरान कांग्रेस पर टिप्पणी की है और कहा कि भाजपा ने अपने मित्र संगठन कांग्रेस के सहयोग से उसी तारीख को मरवाही में कार्यक्रम तय किया है। इसका उद्देश्य है कि मुख्यमंत्री के क्षेत्र में होने वाले कार्यक्रम से जनता का ध्यान भटकाया जाए। जोगी ने कहा है कि भाजपा की मित्र पार्टी कांग्रेस यह अच्छी तरह से जानती है कि मरवाही की जनता भाजपा की मित्र पार्टी के कार्यक्रम में सहयोग नहीं करेगी, इसलिए उसे संभागीय स्तर का बताया गया है और भाड़े पर लोगों को इकट्ठा किया जाएगा।

शर्मा ने बताया कि ठाठापुर के कार्यक्रम में सात सूत्री प्रस्ताव पारित किया जाएगा। छत्तीसगढ़ में कांगे्रस से बगावत कर अजीत जोगी ने नई पार्टी की घोषणा कर दी है। जोगी ने कांग्रेस से इस्तीफा नहीं दिया था। हालांकि कांग्रेस ने जोगी को सभी महत्वपूर्ण पदों से पहले ही अलग कर दिया था।  इस्तीफा देने के बाद जोगी ने प्रदेश कांंग्रेस नेताओं के साथ साथ अब कांग्रेस पार्टी को भी अपने निशाने पर ले लिया है। यही कारण है कि जोगी कांग्रेस को राज्य में भाजपा की मित्र पार्टी बता रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App