ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: सांसदों को भाजपा ने दिया दो पेज का फीडबैक फॉर्म, वोटर्स की जाति सहित पूछे ये सवाल

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): भाजपा ने दिल्ली सांसदों को 2 पेज का एक फीडबैक फॉर्म भरने को दिया है। इस फीडबैक फॉर्म में सांसदों के निर्वाचन क्षेत्र में यूथ की जनसंख्या से लेकर जाति के मुताबिक जनसंख्या तक का लेखा-जोखा मांगा गया है।

भाजपा कार्यालय के पास बिक्री के लिए चुनावी साम्रगी, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस (प्रवीण खन्ना)

Lok Sabha Election 2019: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने दिल्ली सासंदों को एक फॉर्म भरने के लिए दिया है। 2 पन्नों के इस फॉर्म में सांसदों से उनके इलाके की जानकारी मांगी गई है। जानकारी में पार्टी के फंड द्वारा किए गए उनके निर्वाचन क्षेत्रों में काम सहित उन सभी कार्यों का लेखा- जोखा मांगा है। जिससे लोग सीधे तौर पर प्रभावित हुए हैं।

किस जाति के कितने वोटर्स: पार्टी की तरफ से सांसदों को 2 पन्नों का फॉर्म दिया गया है। इस फॉर्म में सासंदों से उनके निर्वाचन क्षेत्रों की पूरी जानकारी मांगी गई है। इस जानकारी में यूथ की जनसंख्या, किस जाति के कितने वोटर्स और कितने दूसरे राज्य के लोग रह रहे हैं जैसे कई सवाल शामिल हैं। भाजपा नेता के मुताबिक इस फीडबैक फॉर्म से मिली जानकारी के मुताबिक विज्ञापन अभियान के साथ ही उपलब्धियों को उजागर करने का काम भी किया जाएगा।

फीडबैक फॉर्म की मदद से होगी प्लानिंग: भाजपा नेता ने बताया कि इस फीडबैक फॉर्म की मदद से पार्टी स्टार प्रचारक प्लान करेंगे और जाति और जनसंख्या के हिसाब से रणनीति बनाई जाएगी। इसके साथ ही नेता ने बताया कि फॉर्म में प्रभावशाली लोगों के नाम भी मांगे गए हैं। यानी सांसदों के निर्वाचन क्षेत्र के ऐसे प्रभावशाली लोग, जिनसे पार्टी ‘संपर्क फॉर समर्थन’ में उनका सहयोग ले सकें।

अभियान की रणनीति का है हिस्सा: बताया जा रहा है कि सांसदों के साथ ही वोटर्स से भी फीडबैक फॉर्म भरवाया जाएगा। इस फीडबैक फॉर्म से वोटर्स का मिजाज पता लगेगा। ये सर्वे स्वतंत्र एजेंसियां करेंगी।

कैसे होंगे सर्वे में सवाल: वोटर्स से पूछे गए फीडबैक फॉर्म में कई सवाल शामिल होंगे। इन सवालों में कुछ सवाल होंगे जैसे- आपके तीन चहेता भाजपा नेता कौन हैं ?, आपके निर्वाचन क्षेत्र में सबसे पॉपूलर नेता कौन है ? वहीं इस सर्वे को नमो एप के साथ किया जाएगा। बता दें कि यह उम्मीदवारों को अंतिम रूप देने से पहले अपने अयोग्य सांसदों का ‘फोर लेयर’ मूल्यांकन भी कर रहा है।

भारत के मन की बात: पूर्व एमसीडी मेयर आरती मेहरा ने बताया कि पिछले महीने भाजपा के ‘भारत के मन की बात’ कैंपेन में पार्टी को 6 लाख से अधिक सुझाव आए थे। अब तक प्राप्त सुझावों में अनधिकृत कॉलोनियों, अधिक नौकरियों की बात कही गई थी।

Next Stories
1 बीजेपी विधायक के पोस्ट में विंग कमांडर अभिनंदन की तस्वीर, चुनाव आयोग ने लिया एक्शन
2 Election 2019: जिसके सहारे गडकरी को हराने की तैयारी मे कांग्रेस, विवादों में वो दिग्गज नेता, हत्याकांड में उछला नाम
3 मुजफ्फरनगर दंगों के दौरान हुई थी दो मुस्लिम भाइयों की हत्या, चश्मदीद का गोली मारकर मर्डर
ये पढ़ा क्या?
X