ताज़ा खबर
 

सुंदरबन बाघ अभयारण्य में टाइगर को लगाया गया रेडियो कॉलर, जानिए क्यों लगाया जाता है ये

रेडियो कॉलर एक ऐसा यंत्र है, जिसकी मदद से जानवरों की गतिविधियों का पता चलता है। यह अभियान सुंदरबन बाघ अभयारण्य के बशीरहाट रेंज में किया गया। यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब पिछले कुछ महीनों में सुंदरबन में बाघ के हमले में कई लोग हताहत हो चुके हैं।

Author Edited By Jansatta Online कोलकाता | December 28, 2020 1:39 PM
Sundarban , Tiger , West Bengal , Forestगले में रेडियो कॉलर लगा हुआ बाघ (फोटो क्रेडिट – PTI)

पश्चिम बंगाल वन विभाग ने सुंदरबन बाघ अभयारण्य में एक नर बाघ को रेडियो कॉलर लगाया है। एक शीर्ष वन अधिकारी ने यह जानकारी दी। मुख्य वन्यजीव वार्डन वी के यादव ने रविवार को संवाददाताओं को बताया कि ‘सेफगार्ड टाइगर’ (बाघों की सुरक्षा से जुड़ा) अभियान से बाघों के वास स्थान समेत उनके व्यवहार को समझने में मदद मिलेगी।उन्होंने कहा, ‘‘ नर बाघ को 26-27 दिसंबर को रेडियो कॉलर लगाया गया और उसे सुंदरबन बाघ अभयारण्य में छोड़ा गया ताकि रेडियो उपकरण के जरिए बाघ-मानव के बीच के पारस्परिक व्यवहार का आकलन हो सके।’’

रेडियो कॉलर एक ऐसा यंत्र है, जिसकी मदद से जानवरों की गतिविधियों का पता चलता है। यह अभियान सुंदरबन बाघ अभयारण्य के बशीरहाट रेंज में किया गया। यादव ने कहा, ‘‘ हम इस पर सैटेलाइट डेटा के जरिए निगरानी करेंगे और इस निगरानी से विश्व वन्यजीव कोष भी जुड़ा है।’’

यादव ने कहा कि वन विभाग की योजना सुंदरबन में तीन और बाघों को सैटेलाइट रेडियो कॉलर लगाने की है। यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब पिछले कुछ महीनों में सुंदरबन में बाघ के हमले में कई लोग हताहत हो चुके हैं।

हालांकि वन अधिकारी का कहना है कि सुंदरबन के बाघ नरभक्षी नहीं हैं और बाघों के हमले के बाद ज्यादातर ‘लोगों की मौत खून की भारी कमी की वजह से हुई क्योंकि उन्हें इलाज के लिए लाने में तीन से चार घंटे का समय लगा।’’

दरअसल रेडियो कॉलर एक सयंत्र है जिसमें उपग्रहों के जरिए किसी की गतिविधि पर निगरानी रखी जाती है। किसी जानवर पर रेडियो कॉलर लगा देने से उसके चाल पर आसानी से नजर रखी जा सकती है और उसकी सही स्थिति मिलने के बाद उसे तत्काल वहां से हटाया जा सकता है। कुछ समय पहले रेडियो कॉलर उत्तराखंड में हाथियों के ऊपर भी लगाया गया था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 1-1 नेता आपका ‘बकलोल’ हो गया…जब कांग्रेसी नेता की कवि ने ली चुटकी, एंकर भी बोले- आप ऐक्शन ही नहीं कर रहे, तो रिएक्शन होगा कहां से…
2 यूपीः नर्सिंग होम पर रेड, 40 आशा कार्यकर्ताओं को हिरासत में, होंगी बर्खास्‍त
3 कांग्रेस के स्थापना दिवस पर विवादों में राहुल का विदेश दौरा, हुआ प्रियंका से सवाल तो ना देते बना जवाब
ये पढ़ा क्या?
X