ताज़ा खबर
 

नोएडा: पहले शादीशुदा साली के साथ घर से भागा, फिर बीवी को फोन पर दे दिया तीन तलाक

एनसीआर में फोन पर तीन तलाक देने का मामला सामने आया है। सुप्रीम कोर्ट अगस्‍त, 2017 में एक ही झटके में तीन तलाक देने को असंवैधानिक करार दे चुका है।

Author नई दिल्‍ली | January 31, 2018 16:20 pm
प्रतिकात्‍मक तस्वीर।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा एक ही झटके में तीन तलाक को गैरकानूनी करार देने के बाद भी देश में इस तरह के मामले रुक नहीं रहे हैं। एनसीआर में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। ट्रक ड्राइवर कासिम ने अपनी पत्‍नी सम्‍मान (30) को 29 जनवरी को फोन पर तीन तलाक देकर संबंध तोड़ लिया। उसने अपनी शादीशुदा साली से शादी भी कर ली है। महिला के पिता हसन ने दादरी थाने में इसकी शिकायत दी है। उन्‍होंने कलेक्‍टर और नोएडा के वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) से इस मामले में हस्‍तक्षेप करने की मांग की है। ‘टाइम्‍स ऑफ इंडिया’ की रिपोर्ट के अनुसार, कासिम और सम्‍मान की वर्ष 2007 में शादी हुई थी। दोनों हिंडन विहार में रहते थे। सम्‍मान के वकील ने कानूनी विकल्‍पों पर विचार करने की बात कही है। मालूम हो कि पिछले साल अगस्‍त में शीर्ष अदालत ने एक ही झटके में तीन तलाक देने को असंवैधानिक करार दिया था। नरेंद्र मोदी सरकार ने इसको लेकर संसद में विधेयक भी लाया है। लोकसभा से पास होकर फिलहाल यह राज्‍यसभा में लंबित है।

सम्‍मान के रिश्‍तेदारों ने बताया कि शुरुआत में वह कासिम के साथ खुर्जा (उत्‍तर प्रदेश) में रहती थी। कुछ समय पहले ही दोनों हिंडन विहार में शिफ्ट हुए थे। इस दौरान कासिम और सम्‍मान की बहन रुकैया के बीच प्रेम संबंध परवान चढ़ गया था। रुकैया की मार्च, 2017 में वसीम से शादी हो चुकी थी। वसीम ने बताया कि कासिम पिछले साल 21 अक्‍टूबर को उससे मिलने दादरी आया था। वसीम और रुकैया दादरी में ही रहते हैं। उसने कहा, ‘हमलोग एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए गुलावटी गए थे। मेरी पत्‍नी और छोटी बहन घर पर ही थे। उसी समय कासिम रुकैया के साथ घर से नकदी और गहने लेकर फरार हो गए थे। मैं कासिम को जानता भी नहीं था। मैं उससे अपनी शादी में ही मिला था।’ सम्‍मान ने बताया कि कासिम और रुकैया की शादी के बारे में एक रिश्‍तेदार ने उन्‍हें जानकारी दी थी। सम्‍मान ने बताया कि सोमवार (29 जनवरी) को उन्‍होंने कासिम से बात कर स्थिति साफ करने को कहा था, लेकिन उसने मुझे फोन पर ही तीन तलाक दे दिया। कासिम के बड़े भाई फहीमुद्दीन ने इस वाकये की पुष्टि की है। वहीं, वसीम का कहना है कि रुकैया ने उन्‍हें अभी तक तलाक नहीं दिया है। दादरी के सर्किल ऑफिसर निशंक शर्मा ने मामले की छानबीन करने की बात कही है।

सूत्र बताते हैं कि घर से भागने के बाद कासिम और रुकैया ने गाजियाबाद के सब-रजिस्‍ट्रार ऑफिस में शादी कर ली थी। उस वक्‍त दोनों ने अपने पति या पत्‍नी को तलाक नहीं दिया था। शादी के बाद दोनों ने अपने मोबाइल फोन स्विच ऑफ कर लिए थे, जिसके कारण उनसे संपर्क नहीं हो सका। इस दौरान दोनों यहां से वहां जाते रहे। आखिरकार कुछ दिनों पहले कासिम और रुकैया खुर्जा स्थित अपने घर पहुंचे थे। सम्‍मान के पिता हसन की ओर से शिकायत देने के बाद पुलिस या स्‍थानीय प्रशासन की ओर से इस बाबत अभी तक कार्रवाई नहीं की गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App