ताज़ा खबर
 

Delhi Floods Alert: यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर, 10 हजार लोगों को छोड़ना पड़ा घर

यमुना नदी में जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर पहुंचने से दिल्ली में बाढ़ आने की संभावना और बढ़ गई है। इसके लिए नदी के किनारे बसे सभी लोगों को पास के राहत टेंटों में भेजा गया है।

Author दिल्ली | Published on: August 20, 2019 8:57 AM
delhi floodदिल्ली में बढ़ की चेतवानी (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

दिल्ली में सोमवार (19 अगस्त) की शाम को यमुना नदी में जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गया जिससे दिल्ली में बाढ़ आने की संभावना और बढ़ गई है। बता दें कि इसके बाद अधिकारियों ने निचले इलाकों में रहने वाले 10 हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हरियाणा के हथिनीकुंड बांध से और पानी छोड़े जाने के कारण नदी में जल स्तर और भी बढ़ सकता है। बता दें कि पिछले कई दिनों से यमुना नदी में बांध का पानी छोड़ने से दिल्ली में बाढ़ के आने की संभावना जताई जा रही है जो सोमवार को और बढ़ गई है।

लोगों को राहत शिविरों में भेजा गयाः निचले इलाकों में रह रहे लोगों को दिल्ली सरकार की विभिन्न एजेंसियों द्वारा बनाए गए दो हजार से ज्यादा टेंट में भेजा गया है। यमुना नदी पर बने पुराने लोहे का पुल को अधिकारियों ने सड़क और रेल यातायात के लिए बंद कर दिया है क्योंकि पानी का स्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर से अधिक हो गया है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘यमुना के बढ़ते जल स्तर को देखते हुए करीब 10 हजार लोगों को निचले इलाकों से निकालकर प्रशासन द्वारा बनाए गए राहत टेंटों में भेजा गया है।’

National Hindi News, 20 August 2019 LIVE Updates: देश-दुनिया की तमाम अहम खबरों के लिए क्लिक करें

सरकार हर हालात के लिए तैयार हैः केजरीवाल ने इस पर बयान देते हुए कहा कि दिल्ली के लिए अगले दो दिन ‘अहम’ होंगे। उन्होंने लोगों को आश्वासन दिया कि स्थिति से निपटने के लिए सभी प्रबंध कर लिए गए हैं। उन्होंने लोगों से भयभीत नहीं होने की अपील भी की। मुख्यमंत्री ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि निचले इलाकों से 23,800 से अधिक लोगों को हटाए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने यमुना नदी डूब क्षेत्र में रहने वाले लोगों से कहा कि राहत टेंट में चले जाएं और अपने घरों में नहीं रहें।

और बढ़ सकता है खतराः दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि शाम छह बजे नदी में जलस्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर से थोड़ा ऊपर यानी 205.36 मीटर तक पहुंच गया है। वहीं अधिकारी ने यह भी बताया कि जलस्तर के और बढ़ने की आशंका है क्योंकि हरियाणा ने सोमवार शाम छह बजे 1.43 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा है। बता दें कि बाढ़ नियंत्रण कक्ष के मुताबिक रात नौ बजे यमुना 205.54 मीटर के निशान पर बह रही थी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Himachal Pradesh Rains: 48 घंटे लगातार बारिश से 22 की मौत, 500 लोग फंसे, लाहौल स्पीति-चंबा में बर्फबारी
2 63 यात्रियों से भरी Delhi-Jaipur फ्लाइट में लगी आग, IGI एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग, Air India ने कहा- सभी सुरक्षित
3 National Hindi News, 20 August 2019 Updates: जम्मू एयरपोर्ट पर गुलाम नबी आजाद को रोका, दिल्ली वापस भेजा
ये पढ़ा क्या?
X