ताज़ा खबर
 

गगनचुंबी राहतः फ्लैट की बाट जोह रहे खरीदारों के लिए सुकून भरी होगी जनवरी

बरसों से फ्लैट मिलने का इंतजार कर रहे खरीदारों को के लिए साल का पहला महीना राहत भरा साबित हो सकता है।

Author नोएडा | January 4, 2018 1:22 AM
(File Photo)

बरसों से फ्लैट मिलने का इंतजार कर रहे खरीदारों को के लिए साल का पहला महीना राहत भरा साबित हो सकता है। गुरुवार तक प्राधिकरण 4383 फ्लैटों का कब्जा देने के लिए जरूरी अधिभोग प्रमाणपत्र (कंप्लीशन सर्टिफिकेट) जारी करेगा। ये फ्लैट नौ बिल्डर परियोजनाओं के हैं। इसके अलावा मंगलवार को 400 फ्लैटों के अधिभोग प्रमाणपत्र जारी किए गए। ये फ्लैट सेक्टर-128 स्थित जेपी बिल्डर परियोजना के हैं। 4383 फ्लैटों का अधिभोग प्रमाणपत्र लेखा विभाग से एनओसी जारी नहीं होने के फेर में लटक गया था।
यूपी के मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार 31 दिसंबर, 2017 तक खरीदारों को फ्लैटों का कब्जा दिया जाना था। जबकि मार्च 2018 तक 40 हजार खरीदारों को कब्जा देने का नया लक्ष्य शासन स्तर से तय किया गया है। मंगलवार को नोएडा प्राधिकरण ने जेपी बिल्डर परियोजना के 400 फ्लैटों के अधिभोग प्रमाणपत्र जारी कर दिए। इसके अलावा सेक्टर-151 में जेपी अमन परियोजना के 1000 फ्लैटों के अधिभोग प्रमाणपत्र के लिए बिल्डर ने प्राधिकरण में आवेदन किया है। इसके अलावा मैक्सविलेज परियोजना के 597 में से 197 फ्लैटों को दिसंबर में ही अधिभोग प्रमाणपत्र जारी कर दिया था।

बाकी के अधिभोग प्रमाणपत्र एक-दो हफ्ते में मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद शहर की बिल्डर परियोजनाओं में निवेश करने वाले 2.50 लाख से ज्यादा खरीदार सड़कों पर उतर आए थे और बिल्डरों समेत प्राधिकरण कार्यालय का भी घेराव किया था। मामले की नजाकत को समझते हुए शासन स्तर पर तीन मंत्रियों की समिति बनाई गई थी, जिसे दिसंबर 2017 तक 50 हजार खरीदारों को कब्जा दिलाने को कहा गया था। बाद में इस संख्या को घटाकर 40 हजार कर दिया गया। इसके तहत नोएडा में कुल 12500 फ्लैट दिए जाने का लक्ष्य था। दिसंबर तक 8 हजार फ्लैटों के अधिभोग प्रमाणपत्र जारी कर दिए गए थे। इसके बाद 4393 फ्लैटों के अधिभोग प्रमाणपत्र के लिए आवेदन किया गया, जिनके अगले कुछ दिनों में जारी होने की उम्मीद है। अधिभोग प्रमाणपत्र जारी होने के बाद खरीदारों को कब्जा मिलने का रास्ता खुल गया है।

4383 परियोजनाओं में सबसे ज्यादा 2051 सेक्टर-70 में पैन ओएसिस बिल्डर परियोजना के हैं। बिल्डर पर प्राधिकरण का करीब 30 करोड़ रुपए बकाया है। इसमें से 10 करोड़ रुपए प्राधिकरण में जमा कराए गए हैं। इसके अलावा अन्य आठ बिल्डरों के दस्तावेजों की जांच के बाद अधिभोग प्रमाणपत्र जारी हो जाएंगे। 40 हजार फ्लैट दिसंबर तक और 40 हजार फ्लैट मार्च 2018 तक खरीदारों को दिए जाने का नया लक्ष्य शासन स्तर से तय किया गया है। हालांकि मार्च 2018 तक दिए जाने वाले 40 हजार फ्लैटों में से नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में कितने फ्लाट आएंगे, यह संख्या अभी तय होनी बाकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App