ताज़ा खबर
 

Pulwama Attack: सड़क पर बनाया पाकिस्तान का झंडा, ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ लिखकर चप्पल से की पिटाई

पुलवामा हमले का पूरे देश में विरोध जारी है। इसी सिलसिले में मध्य प्रदेश के भोपाल में स्थानीय लोगों ने सड़क पर पाकिस्तान का झंडा बनाया और चप्पल से उसकी पिटाई की।

भोपाल में सड़क पर बनाया पाकिस्तान का झंडा, फोटो सोर्स- ANI

14 फरवरी 2019 को कश्मीर के पुलवामा में हुए आत्मघाती आतंकी हमले का पूरे देश में पुरजोर विरोध अब भी जारी है। देश में कई जगहों पर अपने अपने तरीको से लोग शहीदों का नमन कर रहे हैं और साथ ही पाकिस्तान का जमकर विरोध भी कर रहे हैं। ऐसा ही एक विरोध देखने को मिला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में, जहां लोगों ने सड़क पर पाकिस्तान का झंडा बनाया और उस पर पाकिस्तान मुर्दाबाद लिखा। गौरतलब है कि पुलवामा में आतंकी हमले में देश के 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए थे।

झंडा बनाकर लिखा पाकिस्तान मुर्दाबाद: पुलवामा हमले का विरोध करते हुए भोपाल के एक इलाके में लोगों ने सड़क पर पाकिस्तान का झंडा बनाया और इसके साथ ही पाकिस्तान मुर्दाबाद लिखा। वहीं स्थानीय लोगों ने सड़क पर बने पाकिस्तानी झंडे पर चप्पल से पीटा और झंडे पर से कई गाड़ियां भी निकाली गईं।

अमृतसर के पास भी हो चुका है ऐसा विरोध: बता दें कि पुलवामा हमले के बाद ये पहला विरोध नहीं है, इससे पहले भी अमृतसर के पास स्थानीय लोगों ने विरोध जताने के लिए सड़क पर पाकिस्तान का झंडा बिछा दिया था और उसके ऊपर से गाड़ियां चलाई गईं थी। वहीं झंडे के ऊपर से दिल्ली लाहौर बस को भी निकलवाया गया था। यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकार वायरल हुआ था।

विरोध में दिया जा रहा है डिस्काउंट: देश विरोध जताने के और भी कई अनोखे तरीके देखने को मिल रहे हैं। बता दें कि छत्तीसगढ़ में एक फूड स्टाल मालिक चिकन लेग पीस पर उन कस्टमर्स को दस रुपए का डिस्काउंट दे रहा है जो पाकिस्तान मुर्दाबाद कहेगा। वहीं ऐसा ही कुछ मुंबई के एक रेस्टोरेंट में भी देखने को मिला जहां पाकिस्तान मुर्दाबाद का नारा लगाने पर दस प्रतिशत डिस्काउंट मिल रहा है।

 

शहीदों के परिवार की मदद: एक तरफ जहां पाकिस्तान का विरोध जताया जा रहा है तो वहीं शहीद परिवारों की भी मदद की जा रही है। देश में कई ऐसी खबरें भी देखने को मिलीं जिसमें लोगों ने बढ़ चढ़कर शहीदों के परिवार के लिए आर्थिक मदद की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App