RSS नेता के बेटे की आत्महत्या के मामले 5 पुलिस वाले हुए सस्पेंड, CM योगी के दौरे से पहले बड़ा कदम

उत्तर प्रदेश के बागपत में RSS नेता के बेटे की खुदकुशी मामले ने तूल पकड़ लिया है। इस मामले में पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित करके उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।

RSS, RSS Baghpat, UP Police, Police Men Suspend, Police Men Suspend in Baghpat,
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है। UP Police- Photo Source- Indian Express

उत्तर प्रदेश के बागपत में RSS नेता के बेटे की खुदकुशी मामले ने तूल पकड़ लिया है। इस मामले में पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित करके उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं। पुलिस प्रवक्ता ने गुरुवार को यह जानकारी दी है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बागपत जिले के बिनौली थाना क्षेत्र में रणछड़ गांव में आरएसएस पदाधिकारी के 22 साल के बेटे अक्षय ने सोमवार को आत्महत्या कर ली थी। गुरुवार को योगी आदित्यनाथ का बागपत जिले में दौरा है, लिहाजा इस कदम को उनके दौरे से जोड़कर देखा जा रहा है।

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार एसपी अभिषेक सिंह ने बुधवार शाम को इस मामले में कार्रवाई करते हुए पांच पुलिसकर्मियों, थाना प्रभारी चंद्रकांत पांडे, एसएसआई उधम सिंह तलन, हेड कांस्टेबल सलीम, कांस्टेबल अश्विनी और मुरली को सस्पेंड कर दिया।

इससे पहले अक्षय के पिता की शिकायत पर इन पांचों पुलिसकर्मियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) और अन्य संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था।

क्या है पूरा मामला: मामले की शुरुआत पिछले सोमवार को रणछड़ गांव में एक टीकाकरण केंद्र से हुई थी। अपनी माता को वैक्सीन लगवाने गए अक्षय की किसी बात पर वहां मौजूद पुलिसकर्मियों से झड़प हो गई थी। इसके बाद पुलिस की टीम अक्षय को गिरफ्तार करने उसके घर पहुंची। परिवार का दावा है कि इस दौरान पुलिस ने जमकर तोड़फोड़ मचाई और मां को गिरफ्तार करके ले गई, कुछ देर बाद पुलिस मां के अलावा अक्षय की साली और एक गांव के निवासी को भी हिरासत में ले लिया और अक्षय के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।

पुलिस के इस कदम से अक्षय बुरी तरह से टूट गया और आत्महत्या कर ली। इसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा, उन्होंने अक्षय का शव मंगलवार सुबह तक उठने नहीं दिया। कई थानों की पुलिस बुलाकर मामला शांत कराना पड़ा। अधिकारी ने तुरंत थाना प्रभारी चंद्रकांत पांडे समेत कुल 13 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया। इधर गुरुवार को सीएम योगी के दौरे से कुछ घंटों पहले आरोपी पांच पुलिसकर्मियों के खिलाफ निलंबन का आदेश जारी किया गया।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट