ताज़ा खबर
 

साथी को बचाने के लिए मछुआरों ने प्रधानमंत्री मोदी और सुषमा स्वराज से मांगी मदद

हाल ही में पाकिस्तान द्वारा रिहा किए गए गुजरात के कम-से-कम 18 मछुआरों ने पाकिस्तान की जेल में पिछले 14 महीने से कैद एक भारतीय के जीवन को बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के तत्काल हस्तक्षेप की मांग की है।

Author वडोदरा | June 9, 2016 5:11 AM
पीएम मोदी।

हाल ही में पाकिस्तान द्वारा रिहा किए गए गुजरात के कम-से-कम 18 मछुआरों ने पाकिस्तान की जेल में पिछले 14 महीने से कैद एक भारतीय के जीवन को बचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के तत्काल हस्तक्षेप की मांग की है। उन्होंने इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप की मांग भी की।

गुजरात के गिर सोमनाथ जिले के ताड गांव के रहने वाले 60 वर्षीय भगवान एस सोलंकी की नौका अप्रैल 2015 में पाकिस्तानी जल क्षेत्र में प्रवेश कर गई थी, जिसके बाद उन्हें पकड़ लिया गया था। पाकिस्तान द्वारा रिहा किए गए 18 मछुआरों में से एक भरत ने फोन पर बातचीत में दावा किया, ‘उसकी (सोलंकी की) स्थिति दिन प्रतिदिन बिगड़ती जा रही है। उसकी हालत गंभीर है और उसे विशेष चिकित्सकीय उपचार की जरूरत है, जो पाकिस्तान की जेल में उपलब्ध नहीं हैं।’

भरत ने कहा, ‘इसलिए हम लोग (रिहा किए गए सभी मछुआरे) सोलंकी को वापस लाने के लिए प्रधानमंत्री और स्वराज के हस्तक्षेप की मांग करते हैं।’ भरत और 17 अन्य मछुआरे बुधवार रात यहां पहुंचेंगे। उन्होंने दावा किया, ‘पाकिस्तान की जेलों में बंद सभी मछुआरे सोलंकी के स्वास्थ्य की बिगड़ती स्थिति को लेकर बहुत चिंतित हैं।’  भरत ने साथ ही दावा किया कि करीब डेढ़ वर्ष पहले उसके भाई बलुनारान की पाकिस्तानी जेल में मौत हो गई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App