पंजाब पंचायत चुनाव : अकाली और कांग्रेसी नेताओं में फायरिंग, महिला समेत पांच घायल

पंजाब के बटाला में पंचायत चुनाव से पहले शुक्रवार को गांव सैदपुर कलां में अकाली और कांग्रेसी नेताओं के बीच फायरिंग हुई। इस घटना में दोनों पक्षों के एक महिला समेत पांच लोग घायल हो गए।

Hindi news, jansatta, Firing
तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

पंजाब के बटाला में पंचायत चुनाव से पहले शुक्रवार को गांव सैदपुर कलां में अकाली और कांग्रेसी नेताओं के बीच फायरिंग हुई। इस घटना में दोनों पक्षों के एक महिला समेत पांच लोग घायल हो गए। दोनों ही पक्षों ने एक-दूसरे पर गोली चलाने का आरोप लगाया है। गांव के पूर्व अकाली सरपंच की पत्नी समेत अकाली दल से संबंधित तीन लोगों को अमृतसर रेफर कर दिया गया है। कांग्रेस पक्ष के दो लोगों का इलाज बटाला सिविल अस्पताल में चल रहा है।

कांग्रेसियों पर लगाया धमकाने का आरोप

घायलों में पूर्व अकाली सरपंच हरभजन सिंह की पत्नी सिमरजीत कौर, मनजीत सिंह व एक अन्य रिश्तेदार होशियार सिंह और कांग्रेसी पक्ष से मनबीर सिंह का बेटा लवदीप सिंह व जग्गी शामिल है। झगड़े की सूचना मिलने पर पंजाब ट्यूबवेल कार्पोरेशन के पूर्व चेयरमैन रविकरण सिंह काहलों घायल हुए अकाली कार्यकर्ताओं का हाल पूछने सिविल अस्पताल बटाला पहुंचे। काहलों ने आरोप लगाया कि चुनावों को लेकर कांग्रेसी अकालियों को धमका रहे हैं। वहीं पुलिस का कहना है कि गांव में चल रहे सीवरेज को लेकर यह झड़प हुई है।

दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर लगाया आरोप
पूर्व अकाली सरपंच की पत्नी सिमरजीत कौर, मनजीत सिंह और होशियार सिंह ने आरोप लगाया कि दूसरे पक्ष के कांग्रेसी उन पर दबाव बना रहे थे कि वह पंचायत चुनाव में कांग्रेस की चुनाव में मदद करें। इनका कहना है कि उन्होंने कहा वह अकाली हैं, जिसके कारण वह कांग्रेसी उम्मीदवार को समर्थन नहीं कर सकते। वहीं अस्पताल में दाखिल कांग्रेसी पक्ष के लवदीप सिंह और जागीर सिंह जग्गी के साथ पहुंचे लवदीप सिंह के चाचा प्रभजोत सिंह ने आरोप लगाया है कि पूर्व अकाली सरपंच हरभजन सिंह पिछली बार भी उनसे चुनाव हारा था, इस लिए वह उनसे सियासी रंजिश रखता है।

दोनों पक्षों के बयान दर्ज नहीं हुए
प्रभजोत ने गोली चलाने के अकालियों के आरोप से इनकार करते हुए कहा कि उन्होंने अपने सभी हथियार चुनाव के कारण जमा करवा दिए हैं, जिसकी रसीद उनके पास हैं। इस संबंध में थाना किला लाल सिंह के एसएचओ अमोलकदीप सिंह ने बताया कि फिलहाल दोनों ही पक्षों को बयान दर्ज नहीं हो पाए हैं। अकाली पक्ष के तीन घायलों को अमृतसर रेफर कर दिया। उन्होंने बताया कि गांव में चल रहे सीवरेज का काम को लेकर दोनों पक्ष भिडे़ हैं। बयान के आधार पर पुलिस कार्रवाई करेगी। एसएचओ ने अभी तक 70 फीसदी हथियार जमा कर लिए हैं, बाकी भी जमा कराए जा रहे हैं।

कांग्रेसियों ने पुलिस पर की फायरिंग
फिरोजपुर में पूर्व अकाली सरपंच की कार पर फायरिंग करने वाले आरोपी कांग्रेसियों को पकड़ने गई पुलिस पार्टी पर कांग्रेसियों ने फायरिंग कर दी। पुलिस मुलाजिम बाल-बाल बचे, जबकि आरोपी भागने में कामयाब हो गए। घटना थाना मल्लांवाला के अंतर्गत गांव मल्लूवाला की है। एएसआई अमरजीत सिंह की शिकायत पर थाना मल्लांवाला पुलिस ने दो आरोपी कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

 

12 दिसंबर को भी किया था हमला
एएसआई अमरजीत सिंह ने पुलिस को दिए बयान में कहा कि 12 दिसंबर को पूर्व अकाली सरपंच रमिंदर सिंह उर्फ बिट्टा को जान से मारने की नीयत से कांग्रेसी नेता अंग्रेज सिंह निवासी आशिएके और इंद्रजीत सिंह निवासी मल्लांवाला समेत दस लोगों ने उनकी फॉर्च्यूनर कार पर गोलियां दागकर तोड़ दी थीं, जबकि रमिंदर कार में नहीं था। पुलिस ने गांव मल्लूवाला में पहुंच आरोपियों को गाड़ी रोकने का इशारा किया। इसके बाद स्कॉर्पियो सवार आरोपी इंद्रजीत सिंह ने अपनी लाइसेंसी 315 बोर राइफल से पुलिस पर फायरिंग कर दी। राइफल के बैरल का मुंह ऊपर होने के कारण गोली ऊपर से निकल गई, जिस कारण पुलिस मुलाजिम बाल-बाल बच गए। थाना मल्लांवाला पुलिस ने एएसआई अमरजीत सिंह के बयान पर आरोपी कांग्रेसी नेता अंग्रेज सिंह और इंद्रजीत सिंह के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट