ताज़ा खबर
 

AAP नेता कुमार विश्वास पर यौन उत्पीड़न मामले के आरोप में FIR दर्ज

अदालत ने बुधवार को पाया कि आरोपी ने यौन संकेतों वाली टिप्पणी की थी और शिकायतकर्ता को रिझाने का प्रयास किया था, जिसकी पुलिस जांच की जरूरत है।

Author नई दिल्ली | March 18, 2016 4:07 AM
आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्वास

महिला से छेड़डाड़ के आरोपों पर आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्वास के खिलाफ दिल्ली में गुरुवार को प्राथमिकी दर्ज की गई है। यह कार्रवाई अदालत के निर्देश पर पुलिस को करनी पड़ी है। दिल्ली पुलिस ने यहां एक अदालत को बताया कि आप नेता कुमार विश्वास के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज की गई है।

उनके खिलाफ पार्टी की एक कार्यकर्ता ने यौन उत्पीड़न और शील भंग करने का आरोप लगाया है। मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट पंकज शर्मा के निर्देशों के मुताबिक सरोजिनी नगर पुलिस थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है। अदालत ने बुधवार को पाया कि आरोपी ने यौन संकेतों वाली टिप्पणी की थी और शिकायतकर्ता को रिझाने का प्रयास किया था, जिसकी पुलिस जांच की जरूरत है। पुलिस ने अपनी अनुपालन रिपोर्ट में कहा है कि अदालत के आदेश के कुछ घंटों बाद बुधवार को मामला दर्ज कर लिया गया।

रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने आइपीसी की धारा 354-ए ( यौन उत्पीड़न) और 509 (एक महिला का शील भंग करने के इरादे से शब्द, हावभाव या हरकत) के तहत प्राथमिकी दर्ज की है और विषय की जांच शुरू  कर दी है। प्राथमिकी में शिकायतकर्ता ने विश्वास पर यौन संकेतों वाली टिप्पणी करने और उन्हें रिझाने की कोशिश करने का आरोप लगाया है। साथ ही, उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि विश्वास उनका शरीरिक शोषण करने की कोशिश कर रहे थे।

ब्योरा देते हुए उन्होंने प्राथमिकी में आरोप लगाया है कि नेता ने साल 2014-15 के बीच कई बार उन्हें रिझाने का प्रयास किया। अदालत ने आप कार्यकर्ता की याचिका पर प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश देते हुए  पुलिस को इस बात की छूट दी कि वह जांच में जरूरत पड़ने पर विश्वास को गिरफ्तार करे।

इससे पहले मजिस्ट्रेट ने महिला के अनुरोध को स्वीकारते हुए कहा कि शिकायत के तथ्य संज्ञेय अपराध के होने का खुलासा करते हैं। जैसा कि शिकायत में जिक्र किया गया है, आरोपी ने अश्लील टिप्पणियां कीं और शिकायतकर्ता के साथ अश्लील हरकतें कीं जिसकी पुलिस जांच की जरूरत है। अदालत ने पुलिस को अनुपालन रिपोर्ट सौंपने का निर्देश भी दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App