ताज़ा खबर
 

प्‍लेन में मच्‍छरों ने काटा, शिकायत की तो एयरलाइंस पर लगा जुर्माना

एयरलाइन इंडिगो और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया पर 1.35 लाख का जुर्माना लगाया गया है। यह जुर्माना विमान में मच्छर की वजह से यात्रियों को हुई परेशानी की वजह से लगाया गया है।

प्लेन में मच्छर को लेकर एयरलाइंस पर जुर्माना लगा (एक्सप्रेस अर्काइव फोटो Jasbir Malhi)

पंजाब के अमृतसर में जिला उपभोक्ता विवाद निवारण मंच ने गुड़गांव स्थित निजी एयरलाइन इंडिगो और एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) पर 1.35 लाख का जुर्माना लगाया है। यह जुर्माना विमान में मच्छर की वजह से यात्रियों को हुई परेशानी के कारण लगाया गया है।उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 1986 की धारा 12 और 13 के तहत फैसले सुनाते हुए दोनों पक्षों (इंडिगो और एएआई) को क्रमश: 30,000 रुपये और  ₹ 10,000 के मुकदमे के खर्च देने का निर्देश दिया है। साथ ही उन्हें फोरम के उपभोक्ता कानूनी सहायता खाते में प्रत्येक शिकायत के लिए ₹ 5,000 जमा करने का भी निर्देश दिया गया है। यह फैसला अध्यक्ष अनूप शर्मा और सदस्य रचना अरोड़ा की एक पीठ ने 5 सितंबर को सुनाया।

हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, शिकायतकर्ताओं में से एक वकील दीपेंद्र सिंह ने कहा कि उन्होंने 29 मई को उनके वकील के माध्यम से फोरम में शिकायत दर्ज की थी। सुखदीप सिंह और उपदीप सिंह भी उन शिकायतकर्ताओं में से शामिल हैं, जिन्हें 4 अप्रैल को इंडिगो से दिल्ली से अमृतसर का सफर करते वक्त मच्छरों की वजह से परेशानी उठानी पड़ी थी। दीपेंद्र सिंह ने कहा कि, “इंडियो अपने कस्टमर को बेहतर और अच्छी सेवा उपलब्ध कराने का दावा करता है। एएआई एयरपोर्ट और विमान के अंदर स्वच्छता व सुरक्षा की जांच करते हैं। वे इसके लिए एयर टिकट किराया में चार्ज भी वसूलते हैं। हम इंडिगो की फ्लाइट संख्या 6E 2894 में नई दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटनेशनल एयरपोर्ट पर सवार हुए। विमान में घुसते समय हमें काफी मच्छरों का सामना करना पड़ा। जब हमने वहां के कर्मचारियों से शिकायत की तो उन्होंने किसी तरह की मदद करने में असमर्थता जताई। इस समस्या के हल की जगह उन्होंने इसे छोटा मामला बताया और कहा कि यात्रा के दौरान अक्सर मच्छर उड़ते रहते रहते हैं। विमान में हर समय धुंआ का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता।”

उन्होंने कहा, “प्लेन के अन्य यात्रियों ने भी इसकी शिकायत की लेकिन कुछ नहीं किया गया। हमने तत्काल कस्टमर केयर को ईमेल लिखा कि मच्छर यात्रियों के स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। अमृतसर पहुंचने के बाद हम दूसरे यात्रियों के साथ एयरपोर्ट आथरिटी के पास शिकायत करने पहुंचे लेकिन किसी ने इसे गंभीरता से नहीं लिया।” वहीं, फोरम के समक्ष इंडिगो ने कहा, “इस तरह के मामलों से बचने के लिए सभी उचित कदम उठाए जाते हैं। लेकिन कीड़ों या मक्खियों के प्रवेश को पूरी तरह से बंद नहीं किया जा सकता।” दूसरी ओर एएआई ने नोटिस के बावजूद अपना पक्ष रखने को उपस्थित नहीं हुआ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App