ताज़ा खबर
 

‘सत्‍यमेव जयते’ फिल्‍म मुश्किल में, शिया समुदाय ने लगाया भावनाएं आहत करने का आरोप

अल्पसंख्यक मोर्चे के सदस्यों का कहना है कि यदि सीबीएफसी ने जल्द ही कोई कारवाई नहीं की तो शिया समुदाय और भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा पूरे देश में इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगा।

सत्यमेव जयते फिल्म के ट्रेलर का एक दृश्य।

जल्द ही रिलीज होने वाली फिल्म सत्यमेव जयते विवादों में फंसती नजर आ रही है। दरअसल शिया समुदाय ने इस फिल्म के एक सीन पर आपत्ति जतायी है। शिया समुदाय का कहना है कि फिल्म ने उनकी धार्मिक भावनाओं को आहत किया है। शिया समुदाय को फिल्म के मातम वाले हिस्से पर आपत्ति है। बता दें कि रविवार को तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चे ने फिल्म के विरोध में एक मार्च का भी आयोजन किया था। यह मार्च अलवा-ए-शोर्तुक से डिप्टी कमिश्नर ऑफ पुलिस, साउथ जोन तक निकाला गया। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के चीफ हनीफ अली का कहना है कि फिल्म में मातम के दृश्य को गलत तरीके से दिखाया गया है। इस तरह के सीन, जो कि सोशल मीडिया पर देखे जा रहे हैं, सिनेमैटोग्राफी रुल्स, 1983 का खुला उल्लंघन हैं।

शिया समुदाय के इस मार्च में करीब 100 लोगों ने हिस्सा लिया था। साथ ही भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के सदस्यों ने सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन, हैदराबाद में भी एक शिकायत दर्ज करायी है और फिल्म के निर्माताओं के खिलाफ कारवाई करने की मांग की है। अपनी शिकायत में शिया समुदाय ने कहा है कि फिल्म के ट्रेलर में एक्टर जॉन अब्राहम हाथों में तलवार और चेन लिए दिखाई दे रहे हैं और इस दौरान वह लोगों को मार भी रहे हैं। शिया समुदाय का कहना है कि वह इस सीन से बेहद आहत हैं। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के चीफ का कहना है कि हमें कभी भी मातम को चकाचौंध से भरपूर नहीं दिखाना चाहिए, क्योंकि यह मातम के प्रदर्शित करने वाला अनुष्ठान है। अल्पसंख्यक मोर्चे के सदस्यों का कहना है कि यदि सीबीएफसी ने जल्द ही कोई कारवाई नहीं की तो शिया समुदाय और भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा पूरे देश में इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगा।

बता दें कि जॉन अब्राहम स्टारर सत्यमेव जयते फिल्म आगामी 15 अगस्त को पूरे देश के सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। फिल्म का निर्देशन मिलन जावेरी ने किया है, वहीं फिल्म के निर्माता भूषण कुमार हैं। गौरतलब है कि किसी फिल्म या किसी सीन पर आपत्ति का यह पहला मामला नहीं है। बीते दिनों संजय लीला भंसाली की बहुचर्चित फिल्म पद्मावत के खिलाफ भी पूरे देश में गुस्सा देखा गया था। मामला कोर्ट तक पहुंच गया था। दरअसल राजपूत समुदाय का आरोप था कि पद्मावत फिल्म में रानी पद्ममावती के किरदार को गलत तरीके से पेश किया गया है। बहरहाल काफी हंगामे के बाद आखिरकार फिल्म रिलीज हुई और खास बात ये है कि फिल्म बड़ी हिट साबित हुई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App