ताज़ा खबर
 

धर्म बदलने पर आरएसएस के हाथों बेटे के कत्ल का आरोप लगाने वाला पिता भी बना मुसलमान

फैसल की हत्या के बाद उनकी मां मीनाक्षी आरएसएस को चुनौती देते हुए सार्वजनिक रूप से मुसलमान बन गई थीं।

Author September 19, 2017 8:10 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है। (AP Photo/Muhammed Muheisen)

केरल के मल्लापुरम जिले के 30 वर्षीय फैसल (पहले अनील कुमार) की हत्या के करीब 10 महीने बाद उनके पिता कृष्णा नायर और मुसलमान हो गये।  फैसल की हत्या का आरोप राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (एसएसएस) के कार्यकर्ताओं पर लगा था। नायर अपने परिवार में मुसलामन बनने वाले आखिरी शख्स हैं। उनका परिवार मल्लापुरम के कोडिनजी गांव में रहता है। फैसल की 19 नवंबर 2016 को हत्या के बाद उनकी मां मीनाक्षी आरएसएस को चुनौती देते हुए सार्वजनिक रूप से मुसलमान बन गई थीं। दो महीने पहले फैसल की दो बहनों, साले और पंच बच्चे भी मुसलमान बन गये। पुलिस के अनुसार अगड़ी जाति से आने वाले नायर दो हफ्ते पहले एक स्थानीय मस्जिद में मुसलमान बने। उनके साथ उनकी पत्नी, बेटियां और पोते-पोतियां भी थे। कहा जा रहा है कि नायर का पूरा परिवार इस समय मल्लापुरम के मरकाजुल हिदाया में नए मुसलमान बनने वालों को दी जाने वाली तालीम हासिल कर रहा है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, “फैसल के एक साले विनोद को छोड़क पूरा परिवार मुसलमान बन चुका है। विनोद फैसल की हत्या में आरोपी है। मुसलमानों के लिए फैसल शहीद है और उसके परिवार को हर संभव मदद दे रहे हैं। इसी से वो लोग मुसलमान बनने को प्रेरित हुए।” फैसल सऊदी अरब की राजधानी रियाद में ड्राइवर के रूप में काम करता था। वो साल 2015 में मुसलमान बन गया था। अगस्त 2016 में उसकी पत्नी और तीन नाबालिग बच्चे भी मुसलमान हो गये। कथित तौर पर इलाके के आरएसएस कार्यकर्ता इससे नाराज थे। फैसल की हत्या के बाद आरएसएस और बीजेपी से जुड़े 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया था।

पुलिस के अनुसार हत्यार के आरोपियों को डर था कि फैसल अपने परिवार में बाकी लोगों को भी मुसलमान बनने के लिए उकसा सकता है। पुलिस के अनुसार विनोद ने ही संदिग्धों को फैसल की गतिविधियों की जानकारी दी थी। पुलिस के अनुसार हत्या का मुख्य आरोपी 47 वर्षीय मदाथिल नारायण तिरूर में आरएसएस कार्यवाहक है। वो पहले भी एक मुसलमान बने व्यक्ति की हत्या में संदिग्ध था और पिछले साल जुलाई में सुप्रीम कोर्ट से बरी हुआ था। फैसल की हत्या के सभी आरोपियों को हाल ही में जमानत मिली है। 25 अगस्त को फैसल की हत्या के एक संदिग्ध 24 वर्षीय के बिपिन की हत्या कर दी गयी। पुलिस के अनुसार फैसल की हत्या का बदला लेने के लिए बिपिन की हत्या करने की आशंका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App