ताज़ा खबर
 

पिता पर किया रेप केस, फिर बोली- प्यार से किस करते थे, मैंने गलत समझ लिया

सीआरपीसी की धारा 164 के तहत जज को दिए बयान में लड़की ने बताया कि उसके पिता ने कुछ भी गलत नहीं किया है। वह छोटी-छोटी बात पर मां से लड़ने पर पिता से नाराज थी। लड़की ने कहा, 'मैंने मां और पुलिस को बढ़ा-चढ़ाकर बोला। पिता प्यार से किस करते थे। मैंने गलत समझ लिया था।'
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

स्पेशल कोर्ट ने रेप के आरोपी पिता को तब बरी कर दिया, जब उसकी 11 वर्षीय बेटी अदालत में मुकर गई। लड़की ने कहा है कि उसने टीवी सीरियल ‘सावधान इंडिया’ देखकर पिता के खिलाफ रेप का केस दर्ज कराया था, क्योंकि सीरियल में उसने देखा था कि पिता का चूमना कुछ गलत दर्शाता है। सीआरपीसी की धारा 164 के तहत जज को दिए बयान में लड़की ने बताया कि उसके पिता ने कुछ भी गलत नहीं किया है। वह छोटी-छोटी बात पर मां से लड़ने पर पिता से नाराज थी। लड़की ने कहा, “मैंने मां और पुलिस को बढ़ा-चढ़ाकर बोला। पिता प्यार से किस करते थे। मैंने गलत समझ लिया था।” अदालत में दिए लड़की के बयान के बाद जज प्रेम कुमार बार्थवाल ने कहा, “संभव है कि लड़की को ऐसा बयान देने के लिए कहा गया।”

दरअसल, पिछले साल सितंबर में लड़की को मेडिकल टेस्ट के लिए भी ले जाया गया। उसे एक एनजीओ ने मामले में सलाह भी दी, जिसके बाद उसकी मां ने शिकायत दर्ज की थी। फ्रेंड्स कॉलोनी पुलिस स्टेशन में आईपीसी धारा और पोक्सो एक्ट के तहत आरोपी पिता के खिलाफ केस दर्ज किया गया। चूंकि आरोपी लड़की का पिता था, इसलिए लड़की की सुरक्षा को देखते हुए उसे प्रार्थना होम में रखा गया। उसी दिन पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत जज के सामने लड़की को पेश करने से पहले उसका बयान दर्ज किया था।

मुकदमे के दौरान कोर्ट ने अभियोजन पक्ष के दो गवाहों लड़की और उसकी मां पर भरोसा किया, लेकिन बाद में दोनों मुकर गए।  दरअसल, मां कहना है कि पिछले साल 9 सितंबर से पहले उसे जानकारी मिली कि उसका रिजल्ट बहुत बेकार आया था। वह पढ़ाई में ठीक नहीं कर रही थी। इससे शक हुआ कि लड़की यौन उत्पीड़न का शिकार हुई है। हालांकि, पूछताछ के दौरान मां ने बताया कि उसने अपनी बेटी को पिता के खिलाफ झूठी गवाही देने के लिए डांटा भी, क्योंकि उसे लगता था कि हम हर समय लड़ते रहते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.