ताज़ा खबर
 

फारूख अब्दुल्ला ने मोदी सरकार के इस मंत्री को कहा ‘पाकिस्तानी’, यूं निकाली भड़ास

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला ने केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह पर भड़ास निकालते हुए कहा कि ऐसे लोग झूठ बोलकर सत्ता में आ जाते हैं।

केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह और जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला। (Photo: ANI)

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला ने मोदी सरकार के मंत्री जितेंद्र सिंह पर जमकर भड़ास निकाली। उन्हें पाकिस्तानी तक कह डाला। अब्दुल्ला ने कहा कि जितेंद्र सिंह ने आज तक किया क्या है? ऐसे लोग झूठ बोलकर सत्ता में आ जाते हैं। एएनआई के अनुसार, मोदी सरकार में गृह राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, “मैंने पहले भी ये कहा है कि कश्मीर के स्थानीय नेताओं की यह प्रवृति रही है कि यदि वे सत्ता में रहते हैं तो इसे भारत का अभिन्न हिस्सा बताते हैं और जैसे ही सत्ता से बाहर जाते हैं, कश्मीर की पहचान को लेकर सवाल उठाने लगते हैं। पाकिस्तान तथा वहां की सरकार के प्रति सकारात्मक रवैया अपना लेते हैं।”

जितेंद्र सिंह ने आगे कहा, “यह सिर्फ एक पार्टी पीडीपी तक ही सीमित नहीं है। नेशनल कांफ्रेंस का भी यही चरित्र है। जब फारूख अब्दुल्ला मुख्यमंत्री थे तब वे केंद्र से यह शिकायत करते थे कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के आतंकी ठिकानों को ध्वस्त क्यों नहीं किया जा रहा है। आज जब वे सत्ता में नहीं है, तो क्या कह रहे हैं, हम सब को मालूम है।”

जितेंद्र सिंह के इस बयान पर फारूख अब्दुल्ला खफा हो गए। उन्होंने कहा, जितेंद्र सिंह ने क्या पाया है? वह कौन से मंत्री हैं? उन्होंने क्या काम किया है? मंत्रालय का एक पद हैं उनके पास और बात दूसरे विषय पर कर रहे हैं लेकिन उनके पास दिखाने के लिए भी कुछ होना चाहिए। वे यह बताएं कि मैंने कब कहा है ‘हम भारतीय नहीं हैं?’ ऐसे लोग पाकिस्तानी हैं। जितेंद्र सिंह जैसे फारूख अब्दुल्ला नहीं है। ऐसे लोग झूठ बोलकर सत्ता में आ जाते हैं।”

बता दें कि एक दिन पहले ही पीडीपी प्रमुख और जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तारीफ की और मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। महबूबा ने पाकिस्तान में गुरुनानक देव के नाम पर एक नया विश्वविद्यालय खोलने के फैसले पर इमरान खान की प्रशंसा की। मोदी सरकार पर तंज करते हुए कहा कि इनका काम सिर्फ शहरों का नाम बदलना और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण करना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App