ताज़ा खबर
 

मुआवजा न मिलने के सदमे से किसान की मौत

बैंक का कर्ज उतारने के लिए रेलवे लाइन दोहरी करण में अधिग्रहण भूमि का मुआवजा लेने के लिए तीन दिन से चक्कर काटने के बाद मायूस हुए किसान की सदमे से मौत हो गई।

Author मुजफ्फरनगर | December 12, 2017 1:08 AM
प्रतीकात्नक तस्वीर

बैंक का कर्ज उतारने के लिए रेलवे लाइन दोहरी करण में अधिग्रहण भूमि का मुआवजा लेने के लिए तीन दिन से चक्कर काटने के बाद मायूस हुए किसान की सदमे से मौत हो गई। किसान की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। आरोप है कि कर्ज माफी न होने पर किसान अधिक परेशान हो गया था। मृतक के चाचा रिटायर फौजी नत्थू सिंह ने बताया कि मृतक किसान पर चार बीघा जमीन है। सालों पूर्व रेलवे लाइन दोहरीकरण के लिए करीब 300 मीटर जमीन सरकार ने अधिकग्रहण की थी। जिसका मुआवजा किसान को नहीं मिला। जमीन के मुआवजे को लेकर किसान मुजफ्फरनगर अधिकारियों के चक्कर लगा रहा था। किसान की मौत की खबर मिलने पर पहुंचे भाकियू जिलाध्यक्ष ने अधिकारियों को मामले से अवगत कराते हुए परिजनों को भरोसा दिया।
मढ़करीपुर के किसान मूलचन्द (37) पुत्र मनासिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। सालों पूर्व रेलवे लाइन दोहरी करण के लिए करीब 300 मीटर जमीन सरकार ने अधिकग्रहण की थी। जिसका मुआवजा किसान को नहीं मिला।

जमीन के मुआवजे को लेकर किसान मुजफ्फरनगर अधिकारियों के चक्कर लगा रहा था। बताया कि मृतक किसान ने भूमि विकास बैंक से करीब सात साल पूर्व 50 हजार का कर्ज लिया था। पिछले सात सालों में किसानों का सरकार ने दो बार कर्ज माफ किया। लेकिन किसान का कर्ज माफ नहीं हुआ। कर्ज बढ़कर एक लाख से अधिक हो गया। कर्ज चुकाने के लिए बैंक ने किसान पर दबाव बनाना शुरू कर दिया। खतौली के एस डीएम राम अवतार गुप्ता ने बताया कि किसान की मौत का मामला संज्ञान में नहीं आया है। भूमि विकास बैंक वाले कर्जदाता से खुद ही वसूल कराते है। लेखपाल को भेजकर मामले की जांच कराई जाएगी। सरकार से जो संभव मदद होगी किसान के परिवार को कराई जाएगी।

चरित्र पर संदेह होने पर पत्नी की हत्या : जानसठ क्षेत्र के एक गांव में चरित्र पर संदेह को लेकर एक पति ने अपनी ही पत्नी को छूरी से गला काटकर मौत के घाट उतार दिया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के पास से पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल की गई छूरी भी बरामद कर ली हैं। इंस्पेक्टर कोतवाली जानसठ अनिल कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि देर रात सूचना मिली कि क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम राजपुर तिलौरा निवासी एक व्यक्ति ने अपनी ही पत्नी की गला रेत कर हत्या कर दी। सूचना के तुरंत बाद ही गांव पहुंची पुलिस ने हत्यारोपी नरेंद्र को गिरफ्तार कर लिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि नरेंद्र अपनी पत्नी मैदा उम्र 50 साल पर चरित्र पर काफी समय से संदेह करता था।

लिहाजा पति पत्नी के बीच कुछ समय से ही संबंध भी ज्यादा अच्छे नहीं थे। रात करीब दो बजे नरेंद्र ने सोते समय अपनी पत्नी के गले पर छूरी चलाते हुए मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने रात में ही भागदौड़ कर हत्यारोपी नरेंद्र को हत्या में प्रयुक्त छूरी सहित गिरफ्तार कर लिया। वहीं दूसरी ओर पुलिस हिरासत में हत्यारोपी नरेंद्र ने बताया कि उसे पत्नी की हत्या का कतई अफसोस नहीं हैं।  ट्रेन से गिरकर युवक की मौत : थाना शहर कोतवाली क्षेत्र के बामन हेड़ी फाटक से ट्रेन में सवार युवक की रोहना के बीच ट्रेन से गिरकर घटनास्थल पर ही मौत हो गई। युवक चलती ट्रेन में खिड़की के पास खडा था। अचानक युवक गिर गया ओर उसको अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। मृतक युवक की पहचान नावेद उम्र 25 पुत्र भूरा शेखपुरा निवासी मुजफ्फरनगर के रुप में हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App