ताज़ा खबर
 

किसान ने प्रधानमंत्री को लिखी चिट्ठी, कहा- अधिकारी बोल रहे आपसे झूठ

साठे ने इससे पहले भी खुदरा बाजार में बेची गई प्याज से मिले 1,064 रुपये पर अपना विरोध जताते हुए 29 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजा था।

Author December 18, 2018 3:16 PM
प्रधानमंत्री मोदी। (Photo: ANI)

नासिक के एक किसान ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर जिला अधिकारियों पर आरोप लगाया है कि अधिकारी आपसे झूठ बोल रहे हैं। दरअसल प्याज की बिक्री के बदले में मिली बेहद मामूली कीमत दर्शाने वाले और अपनी कमाई प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजने वाले किसान ने जिला अधिकारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसकी उपज को गलत तरीके से खराब गुणवत्ता वाला बताया गया है।

नासिक जिले के निपहद तहसील के संजय साठे ने सोमवार को प्रधानमंत्री कार्यालय को पत्र लिखकर कहा कि अधिकारियों ने उसकी प्याज की पैदावार के बारे में बिना कोई जांच किए रिपोर्ट तैयार की और उसे खराब बता दिया। बता दें कि साठे ने इससे पहले भी खुदरा बाजार में बेची गई प्याज से मिले 1,064 रुपये पर अपना विरोध जताते हुए 29 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजा था।

हालांकि जिला उपरजिस्ट्रार के कार्यालय द्वारा महाराष्ट्र सरकार को बाद में सौंपी गई एक रिपोर्ट में कहा गया कि किसान की प्याज ‘‘मध्यम से खराब गुणवत्ता’’ की थी और उनका रंग ‘‘काला’’ था। साठे ने अपने पत्र में कार्यालय के दावे को खारिज करते हुए कहा है कि मैंने 750 किलो प्याज बेची थी और 1,064 रुपये कमाए थे। लेकिन बिना किसी जांच के सरकारी अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि मेरी प्याज का रंग काला था और वे खराब गुणवत्ता की थीं।

उन्होंने रिपोर्ट को गलत ठहराते हुए कहा कि अधिकारी आपको भ्रमित कर रहे हैं। भारतीय डाक के स्थानीय डाकघर से भेजे गए इस पत्र में किसान ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि आप इस बात को समझेंगे कि अगर अधिकारी आपसे झूठ बोल सकते हैं तो एक आदमी को सरकारी कार्यालयों में किन चीजों का सामना करना पड़ता होगा।

साठे ने दावा करते हुए कहा कि प्याज की खेती करने वाला लगभग हर किसान कम कीमत मिलने और राज्य की उदासीनता का सामना कर रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री से इसका समाधान निकालने का आग्रह किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App