पंजाब: अक्षय की ‘सूर्यवंशी’ के खिलाफ उतरे किसान, फाड़े पोस्टर, कई सिनेमाघरों में रोकी स्क्रीनिंग

किसान अब अक्षय कुमार की फिल्म ‘सूर्यवंशी’ के विरोध में उतर आए हैं। पंजाब में कई जगह इस फिल्म की स्क्रीनिंग को किसानों ने रुकवा दिया है।

Sooryavanshi, farmer protest
सूर्यवंशी के विरोध में उतरे किसान (फोटो वीडियोस्क्रीनशॉट- Reliance Entertainment)

पंजाब में कई जगह अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी के विरोध में किसानों ने जमकर हंगामा किया। किसानों ने फिल्म के विरोध में प्रदर्शन करने के साथ उसके पोस्टर भी फाड़ दिए।

केंद्र के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के एक समूह ने शनिवार को होशियारपुर के पांच सिनेमाघरों को अक्षय कुमार अभिनीत ‘सूर्यवंशी‘ की स्क्रीनिंग रोकने के लिए मजबूर कर दिया। उनमें से कुछ ने सिनेमाघरों के बाहर लगे फिल्म के पोस्टर फाड़ दिए और कहा कि वे अभिनेता अक्षय कुमार का विरोध उनका समर्थन नहीं करने के लिए कर रहे हैं।

भारतीय किसान यूनियन कादियान के कार्यकर्ताओं ने फिल्म की स्क्रीनिंग के खिलाफ स्थानीय शहीद उधम सिंह पार्क से स्वर्ण सिनेमा तक प्रदर्शन और विरोध मार्च निकाला। इस मार्च का नेतृत्व संगठन के जिलाध्यक्ष स्वर्ण धुग्गा ने किया। किसानों ने सिनेमा हॉल के कर्मचारियों को फिल्म की स्क्रीनिंग रोकने के लिए मजबूर करते हुए अक्षय कुमार की निंदा भी की।

किसानों का कहना है कि चूंकि अक्षय कुमार ने किसानों के समर्थन में तीन कृषि कानूनों के खिलाफ नहीं बोला है, इसलिए उनकी फिल्में नहीं चलने देंगे। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि जब तक कृषि कानूनों को निरस्त नहीं किया जाता, वे उनकी फिल्मों के प्रदर्शन की अनुमति नहीं देंगे।

वहीं दूसरी तरफ हरियाणा में संयुक्त किसान मोर्चा ने मांग की है कि किसान कुलदीप राणा पर हमला करने के लिए भाजपा सांसद रामचंद्र जांगड़ा और उनके सहयोगियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। इससे पहले शुक्रवार को बीजेपी सांसद की गाड़ी पर तब कुछ असमाजिक तत्वों ने हमला कर दिया था, जब वो हिसार में एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पहुंचे थे। यहां किसानों ने भाजपा सांसद का जबरदस्त विरोध किया था।

संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा- ‘‘हरियाणा के नारनौंद थाने में प्रदर्शनकारियों का एक बड़ा समूह लगातार धरना दे रहा है। इनमें एक बड़ी संख्या महिला किसानों की भी है। किसान मांग कर रहे हैं कि कुलदीप सिंह राणा को गंभीर रूप से घायल करने के लिए जांगड़ा और उनके सहयोगियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए।’’

वहीं सांसद की गाड़ी पर हमले मामले में पुलिस ने तीन किसानों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद आज किसानों के तेवर को देखते हुए प्रशासन ने तीनों को रिहा कर दिया है। हालांकि मोर्चा की तरफ से इनके खिलाफ दर्ज मामले को वापस लेने की मांग की गई है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट