मुजफ्फरनगर किसान महापंचायत से पहले बोले BKU के राकेश टिकैत, इस बार रोका तो तोड़कर जाएंगे; यूपी पुलिस ने कड़ी की सुरक्षा व्यवस्था

5 सितंबर को मुजफ्फरनगर के जीआईसी मैदान में होने वाली किसान महापंचायत को लेकर उत्तरप्रदेश पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए हैं। इसके लिए पांच एसएसपी, सात एसपी समेत 40 पुलिस इंस्पेक्टर को तैनात किया गया है।

rakesh tikait, bku
किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि रविवार को होने वाली किसान महापंचायत में काफी बड़ी संख्या में किसान शामिल होंगे और उन्हें इस कार्यक्रम में शामिल होने से कोई नहीं रोक सकता है। (एक्सप्रेस फोटो)

पिछले 9 महीने से भी अधिक समय से दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन के बीच उत्तरप्रदेश के मुजफ्फरनगर में 5 सितंबर को किसान महापंचायत बुलाई गई है। उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले हो रहे इस किसान महापंचायत में लाखों किसानों के जुटने की संभावना है। किसान महापंचायत को लेकर उत्तरप्रदेश पुलिस ने काफी बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया है। किसान आंदोलन का प्रमुख चेहरा बन चुके किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि किसानों को महापंचायत में शामिल होने से कोई नहीं रोक सकता है। अगर हमें रोकने की कोशिश की गई तो हम तोड़कर जाएंगे।

किसान नेता राकेश टिकैत ने रविवार को होने वाली किसान महापंचायत को लेकर कहा है कि इस कार्यक्रम में कितने किसान पहुंचेंगे यह बता पाना संभव नहीं है। लेकिन काफी बड़ी संख्या में किसान इस महापंचायत में शामिल होंगे और उन्हें इस कार्यक्रम में शामिल होने से कोई नहीं रोक सकता है और अगर रोकने का प्रयास किया जाएगा तो हम तोड़कर आगे बढ़ जाएंगे।

राकेश टिकैत ने इस कार्यक्रम को लेकर यह भी कहा कि किसान महापंचायत की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। महापंचायत में व्यवस्था बनाए रखने के लिए करीब 5000 वालंटियर्स लगाए गए हैं। साथ ही किसी प्रकार की आपात सूचना के लिए इमरजेंसी नंबर भी जारी किया गया है। इसके अलावा कार्यक्रम स्थल के पास करीब 15 बड़े स्क्रीन भी लगाए गए हैं। ताकि कार्यक्रम में शामिल हुए सभी लोग किसान नेताओं के भाषण को सुन सकें। साथ ही मुख्य कार्यक्रम स्थल के अलावा भी चार – पांच मैदान की व्यवस्था की गई है। ताकि महापंचायत में शामिल होने आए किसानों को कोई समस्या ना हो।

वहीं 5 सितंबर को मुजफ्फरनगर के सबसे बड़े जीआईसी मैदान में होने वाली किसान महापंचायत को लेकर उत्तरप्रदेश पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए हैं। इसके लिए पांच एसएसपी, सात एसपी समेत 40 पुलिस इंस्पेक्टर को तैनात किया गया है। साथ ही कई जिलों की पुलिस को भी मुजफ्फरनगर बुलाया गया है। इतना ही नहीं पीएसी की छह कंपनियां और आरएएफ की दो कंपनियों को भी लगाया गया है।

रविवार को होने वाली इस महापंचायत के लिए बड़ी संख्या में किसानों का जत्था गाजीपुर बार्डर, सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर से मुजफ्फरनगर के लिए निकल चुका है। संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर बुलाए गए इस किसान महापंचायत में शामिल होने के लिए पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, केरल, तमिलनाडु समेत कई राज्यों से आए किसान जुटने शुरू हो गए हैं। इस महापंचायत को अधिकांश गैर- भाजपा दलों का समर्थन प्राप्त है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।