नोएडा में किसानों और पुलिस के बीच हुई झड़प, तोड़े गए बैरिकेड; ढोल नगाड़ों के साथ नोएडा प्राधिकरण के ऑफिस में घुस गए प्रदर्शनकारी

नोएडा में किसानों के साथ पुलिस की झड़प हो गई है। आंदोलनकारियों ने पुलिस बैरिकेड्स तोड़ दिए हैं और नोएडा प्राधिकरण के ऑफिस में घुस गए।

farmer Protest Noida, protest against noida authority, bharat bandh
किसानों और पुलिस के बीच हुई झड़प। (फोटो-@BHARATGHANDAT2)

किसानों के भारत बंद का कई राज्यों में व्यापक असर देखने को मिल रहा है। इसी बीच नोएडा में किसानों और पुलिस के बीच झड़प होने की खबर है। इस दौरान पुलिस के लगाए गए बैरिकेड तोड़ दिए गए हैं।

पुलिस ने जहां बैरिकेड लगा लगे रखे थे, वहां किसानों की भारी संख्या पहुंच गई। किसान वहां से आगे बढ़ने की कोशिश करने लगे, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की। पहले तो किसान और पुलिस के बीच कहासुनी हुई, फिर किसानों ने बैरिकेड तोड़ दिए और पुलिस के साथ झड़प के बाद वो आगे बढ़ गए।

किसान यहां प्राधिकरण के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। जहां वो आज नोएडा सेक्टर छह में स्थित प्राधिकरण के दफ्तर में घुस गए। पुलिस ने उन्हें काफी रोकने की कोशिश की, लेकिन वो आगे बढ़ते ही गए। किसानों की भीड़ देख अधिकारी भी वहां से गायब हो गए। यहां 81 गांवों के किसान प्राधिकरण के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं।

पुलिस की काफी कोशिशों के बाद किसानों को प्राधिकरण के ऑफिस से निकाला गया। फिलहाल किसान बाहर बैठ गए हैं और वहीं धरना दे रहे हैं। इसमें महिलाएं भी काफी संख्या में शामिल हैं। पिछले शुक्रवार को भी किसान यहां उग्र हो गए थे।

Also Read
सड़कों पर लगे जाम पर बोले राकेश टिकैत- लोगों को पहले ही किया था सावधान ; सोशल मीडिया पर फूटा लोगों का गुस्सा

किसानों का बंद सोमवार शाम चार बजे तक चलेगा। इस बंद को कई राजनीतिक पार्टियों ने भी सपोर्ट दिया है। साथ ही कई राज्यों में इस बंद का प्रभाव देखने को मिल रहा है। कहीं सड़कों पर गांड़ियों की लंबी कतारें लगी हैं तो कहीं पटरियों पर किसान बैठे हैं। कई ट्रनों को भी रद्द कर दिया गया है।

भारत बंद को लेकर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि मुठ्ठी भर किसान, कुछ राज्यों का आन्दोलन बताने वाले आंख खोलकर देख लें कि किसानों के आव्हान पर, आज पूरा देश भारत बंद का समर्थन कर रहा है। बिना किसी दबाव व हिंसा के ऐतिहासिक भारत बंद जारी है। सरकार कान खोल कर लें, कृषि कानूनों की वापसी व एमएसपी की गारंटी के बिना घर वापसी नहीं होगी।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट