ताज़ा खबर
 

Noida : जेनपैक्ट के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट ने आत्महत्या की, दो महिलाओं ने लगाया था यौन उत्पीड़न का आरोप

आईटी कंपनी जेनपैक्ट इंडिया के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट स्वरूप राज ने अपने घर में आत्महत्या कर ली। कुछ दिन पहले दो महिलाओं ने उन पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया था।

चित्र का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

आईटी कंपनी जेनपैक्ट इंडिया के असिस्टेंट वाइस प्रेसिडेंट स्वरूप राज ने अपने घर में आत्महत्या कर ली। कुछ दिन पहले दो महिलाओं ने उन पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया था। पुलिस को घटनास्थल से सुसाइड नोट मिला है।

‘निर्दोष साबित हुआ तो भी लोग मुझे गलत नजर से देखेंगे’
सुसाइड नोट में स्वरूप ने लिखा, ‘‘मुझ पर लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोप झूठे हैं। यदि जांच में मुझे निर्दोष घोषित कर दिया गया, फिर भी लोग मुझे शक की नजर से देखेंगे। मैं किस मुंह से दोबारा कंपनी जाऊंगा?’ गौरतलब है कि यौन उत्पीड़न का आरोप लगने के बाद कंपनी ने जांच पूरी होने तक उन्हें निलंबित कर दिया था।

आरोप लगने के बाद परेशान थे स्वरूप

मूलरूप से गुड़गांव (हरियाणा) के रहने वाले स्वरूप राज पैरामाउंट सोसायटी में अपनी पत्नी के साथ रहते थे। निलंबन पत्र में जेनपैक्ट प्रबंधन ने कहा था कि जांच पूरी होने तक स्वरूप कंपनी के किसी भी काम में हिस्सा नहीं ले सकते हैं। इससे स्वरूप मानसिक रूप से परेशान थे। उन्होंने सोमवार रात करीब 12 बजे अपने घर में आत्महत्या कर ली। पत्नी घर पहुंची तो उन्हें घटना की जानकारी मिली। इसके बाद महिला ने मामले की सूचना पुलिस को दी।

 

दो साल पहले हुई थी शादी
स्वरूप की शादी दो साल पहले हुई थी। पत्नी के नाम सुसाइड नोट में उन्होंने लिखा, ‘‘मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं। मैं चाहता हूं कि तुम समाज में इज्जत से जिओ और मजबूत रहो।’’ ग्रेटर नोएडा के सीओ फर्स्ट निशांक शर्मा ने बताया कि तनाव के चलते स्वरूप राज ने जान दी है। उन्हें कंपनी से निलंबित कर दिया गया था। हालांकि, घरवालों ने इस मामले में कोई मुकदमा दर्ज नहीं कराया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App