ताज़ा खबर
 

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे तीन घंटे से पहले पूरा किया सफर तो कटेगा ई चालान, पुलिस के पास पहुंचेगा डेटा

यूपीडा के आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर 2017 से अब तक एक्सप्रेसवे पर 1900 हादसे हो चुके हैं, जिनमें 240 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है।

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे (फोटो सोर्स – इंडियन एक्सप्रेस)

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर फर्राटा भरने वालों के लिए बुरी खबर है। दरअसल, उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डिवेलपमेंट अथॉरिटी (UPEIDA) ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर लगातार हो रहे हादसों को कम करने के लिए अहम फैसला किया है। इसके तहत एक्सप्रेसवे को 3 घंटे से कम समय में पार करने पर चालान भरना पड़ेगा। यूपीडा ने इस फैसले को तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया है। इसके लिए एक्सप्रेसवे के दोनों किनारों पर वाहनों की स्पीड मापने के लिए अत्याधुनिक उपकरण भी लगाए गए हैं।

यह है तैयारी: उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवे इंडस्ट्रियल डिवेलपमेंट अथॉरिटी ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर गति सीमा का उल्लंघन करने पर वाहन चालकों के खिलाफ ई-चालान की कार्रवाई शुरू कर दी है। यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि एक्सप्रेसवे पर बने टोल प्लाजा आगरा (किमी 21) और लखनऊ (किमी 290) पर आधुनिक उपकरण लगाए गए हैं।

National Hindi News, 01 July 2019 LIVE Updates: दिन भर की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

पहले दिन काटे 25 ई-चालान: सूत्रों का कहना है कि यह नियम लागू होने के बाद पहले ही दिन 25 ई-चालान काटे गए हैं। बता दें कि यूपीडा के आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर 2017 से अब तक एक्सप्रेसवे पर 1900 हादसे हो चुके हैं, जिनमें 240 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है।

Bihar News Today, 01 July 2019: बिहार से जुड़ी हर खबर पढ़ने के लिए यहां करें क्लिक 

ऐसे जारी हो रहे ई-चालान: इन आधुनिक उपकरणों से मिले डेटा की रिपोर्ट ईमेल के माध्यम से लखनऊ और आगरा के एसपी ट्रैफिक के कार्यालय में भेजी जा रही है, जिससे ई-चालान जारी होते हैं। गौरतलब है कि यूपीडा ने आगरा और लखनऊ के एसएसपी को इस बाबत अनुरोध पत्र पहले ही भेज दिया था।

ऑनलाइन भी दे सकते हैं जुर्माने की रकम: अवनीश अवस्थी ने बताया कि यूपीडा ने आगरा और लखनऊ दोनों टोल प्लाजा पर यह व्यवस्था की है कि अगर कोई वाहन आगरा से लखनऊ या लखनऊ से आगरा तक की दूरी 3 घंटे से पहले तय करता है तो उसका चालान काटा जाएगा। अभी तक 25 ई-चालान काटे जा चुके हैं। जुर्माने की राशि ऑनलाइन भी जमा कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 यूपी में 17 अति पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र देना सरकारी धोखा: मायावती
2 AAP के बागी MLA ने वीडियो शेयर कर किया दावा- दिल्ली में मंदिर में घुसकर की गई तोड़फोड़