भाजपा से टीएमसी में आए बाबुल सुप्रियो ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, बोले- उन्हें बंगालियों की कद्र नहीं

बीजेपी के पूर्व केंद्रीय मंत्री और अब टीएमसी नेता बाबुल सुप्रियो ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें बंगालियों पर विश्वास नहीं है। उन्होंने कहा कि पीएम बंगाल के लोगों के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध बनाने में कामयाब नहीं हुए हैं।

Babul supriyo attack on pm modi, TMC, Babul supriyo, Bengal, mamta banerjee
पीएम मोदी को बंगालियों की कद्र नहीं- बाबुल सुप्रियो (फाइल फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

कुछ महीने पहले तक पीएम मोदी का गुणगान करने वाले बाबुल सुप्रियो अब बीजेपी पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ते दिख रहे हैं। बीजेपी छोड़ टीएमसी में आए सुप्रियो ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि उन्हें बंगालियों की कद्र नहीं है।

यह पहला मौका है जब सुप्रियो ने सीधे पीएम पर निशाना साधा है। इससे पहले वो पीएम के बजाय बीजेपी का नाम लेकर हमला करते रहे हैं। बाबुल सुप्रियो ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी को बंगालियों में विश्वास नहीं है और वह बंगाल के लोगों के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध खोजने में कामयाब नहीं हुए हैं।

हावड़ा पहुंचे बाबुल सुप्रियो ने कहा- “दिल्ली में अपने सात-आठ साल के कार्यकाल के दौरान, मुझे पता चला है कि प्रधानमंत्री को या तो बंगालियों में विश्वास नहीं है या वे कहीं सद्भाव स्थापित नहीं कर पा रहे हैं।”

टीएमसी नेता ने कहा कि सिर्फ मैं ही क्यों? मेरे से भी सीनियर लोग हैं। अहलूवालियाजी कांग्रेस से आए थे, वे एक वरिष्ठ नेता हैं। जो लोग बंगाल से जीत रहे हैं और वहां जा रहे हैं, उन पर भरोसा नहीं किया जा रहा है। कहीं सामंजस्य की कमी है। आगे उन्होंने कहा कि इसलिए, मैं यहां दीदी के नेतृत्व में काम करने के लिए बंगाल के लोगों की सेवा करने आया हूं।

यह पहली बार है जब बाबुल सुप्रियो ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है। टीएमसी में शामिल होने के बाद, जब उनसे पीएम मोदी और सीएम ममता बनर्जी की नेतृत्व पर सवाल पूछा गया था, तो उन्होंने पीएम पर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया था। उसके कुछ दिनों बाद ही अब सुप्रियो ने पीएम मोदी पर बंगालियों को लेकर निशाना साधा है। बाबुल सुप्रियो, दिल्ली के सरकारी बंगले को खाली करके हावड़ा पहुंचे थे।

बता दें कि बंगाल विधानसभा चुनाव में हार के बाद, मोदी मंत्रिमंडल विस्तार से पहले बाबुल सुप्रियो से इस्तीफा ले लिया गया था। मंत्री पद जाने के बाद से सुप्रियो नाराज थे। इसके कुछ दिनों बाद ही सुप्रियो ने राजनीति से संन्यास का ऐलान कर दिया। संन्यास की घोषणा के कुछ दिनों बाद ही सुप्रियो ने ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी का दामन थाम लिया।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।