ताज़ा खबर
 

यूपी: शोहदों ने एंटी-रोमियो स्‍क्‍वाड की तीन महिला पुलिसकर्मियों को ही छेड़ दिया, 2 गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक तीन में से दो बदमाशों को तुरंत ही पकड़ लिया गया, जबकि एक भागने में कामयाब रहा। पुलिस के मुताबिक तीनों महिला पुलिस अधिकारियों ने साधारण कपड़े पहने थे और उडैयाडीह मोड़ के पास पेट्रोलिंग कर रही थीं।

तस्वीर का प्रयोग प्रतीक के तौर पर किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

उत्तर प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा एंटी-रोमियो स्क्वाड बनाया गया था। इस स्क्वाड का काम बदमाशों से महिलाओं की रक्षा करना है। इसमें पुरुष पुलिसकर्मी के साथ-साथ महिला पुलिसकर्मी को भी शामिल किया गया था। जरा सोचिए कि जिस टीम का काम महिलाओं को छेड़ने और परेशान करने वाले बदमाशों को पकड़ना है, अगर उसी टीम की किसी महिला पुलिसकर्मी के साथ छेड़छाड़ की घटना हो जाए तो क्या होगा। ऐसा ही कुछ यूपी के प्रतापगढ़ में हुआ है।

यहां शनिवार की शाम को पट्टी पुलिस स्टेशन के तहत आने वाले उडैयाडीह मोड़ के पास कुछ बदमाशों ने तीन महिला पुलिसकर्मियों के साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की। यह तीनों महिला पुलिसकर्मी एंटी-रोमियो स्क्वाड में शामिल हैं और घटना के वक्त सिविल ड्रेस में अपनी ड्यूटी पर तैनात थीं। टीओआई के मुताबिक जब बाइक सवार बदमाशों ने महिला पुलिसकर्मियों को देखकर भद्दे कमेंट्स करने शुरू किए, तब पुलिसकर्मी हरकत में आ गए।

पुलिस के मुताबिक तीन में से दो बदमाशों को तुरंत ही पकड़ लिया गया, जबकि एक भागने में कामयाब रहा। पुलिस के मुताबिक तीनों महिला पुलिस अधिकारियों ने साधारण कपड़े पहने थे और उडैयाडीह मोड़ के पास पेट्रोलिंग कर रही थीं। तीनों महिला पुलिसकर्मी छह सदस्यीय एंटी-रोमियो स्क्वाड का हिस्सा हैं, इसमें तीन पुरुष पुलिसकर्मी भी शामिल है। प्रतापगढ़ के एसपी पुरनेंदु सिंह का कहना है, ‘तीन में से जिन दो बदमाशों को पकड़ा गया है, उनमें से एक की पहचान रमेंद्र प्रताप के तौर पर हुई है, तो वहीं दूसरे की पहचान विक्रम सिंह के नाम से हुई है। दोनों ही जोहलापुर के रहने वाले हैं। एक अन्य साथी आशीष, मौके से फरार होने में कामयाब रहा।’ पुलिस फिलहाल आशीष की खोज कर रही है।

सिंह ने जानकारी दी की पुलिस ने आईपीसी की धारा 354, 216 और 217 के तहत इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। एसपी ने कहा, ‘महिला पुलिसकर्मियों ने तीनों युवकों की बाइक को ट्रिपलिंग करने के कारण सब्जी मार्केट के पास रोका था, पुलिस कुछ सवाल पूछती उससे पहले ही तीनों में से एक युवक ने भद्दे कमेंट करने शुरू कर दिए। बदमाशों ने तो एक पुलिसकर्मी से अपने साथ बाइक में बैठने तक को कह दिया।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App