ताज़ा खबर
 

PUBG का साइड इफेक्ट: गेम खेलने में इस कदर डूबा था युवक, पानी की जगह पी लिया एसिड

देश में पबजी गेम को लेकर लोगों के बीच दीवानगी की कमी नहीं है। हाल ही में मध्य प्रदेश में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां यह गेम खेलते हुए एक युवक इतना मशगूल हो गया कि उसने पानी की जगह एसिड पी लिया।

पबजी गेम खेलते हुए युवक ने पी लिया एसिड फोटो सोर्सः इंडियन एक्सप्रेस

देश में एक तरफ पबजी (PUBG- Player Unknown’s Battlegrounds) गेम सभी को अट्रैक्ट कर रहा है। वहीं, इसके साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिल रहा है। ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश में सामने आया है। यहां एक शख्स पबजी गेम खेलने में इतना मशगूल हो गया कि उसने पानी की जगह एसिड पी लिया। हालांकि, मामले की जानकारी मिलते ही घरवालों ने उसे अस्पताल पहुंचा दिया, जिससे उसकी जान बच गई।

इलाज के दौरान भी खेलता रहा PUBG: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़ित शख्स मूल रूप से छिंदवाड़ा का रहने वाला है और फिलहाल भोपाल में रहता है। युवक का इलाज कर रहे डॉक्टर मनन ने बताया कि 25 वर्षीय युवक घर के आंगन में बैठकर PUBG गेम खेल रहा था। गेम खेलते-खेलते वह उसमें इतना ज्यादा मशगूल हो गया कि उसने पास रखी एसिड बोतल को पानी समझकर कर पी लिया। एसिड पीने से युवक के पेट में अल्सर हो गया और उसकी आंतें चिपक गईं। उसे नागपुर रेफर किया गया है, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। डॉ. मनन ने बताया कि युवक को इस गेम की इतनी बुरी लत है कि इलाज के दौरान भी वह PUBG खेलता रहा। बार-बार समझाने के बाद भी वह नहीं माना।

उठ चुकी है गेम को बैन करने की मांगः बता दें कि तमिलनाडु के बाद अब मध्य प्रदेश PUBG गेम को बैन करने की मांग उठी है। मंदसौर से बीजेपी विधायक यशपाल सिसौदिया ने मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के आखिरी दिन पबजी गेम को बैन करने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि PUBG गेम को बैन किया जाए, क्योंकि इससे बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। साथ ही, इस गेम से बच्चे हिंसक हो रहे हैं। उनके पास लगातार अभिभावकों की ऐसी शिकायतें भी आ रही हैं।

क्या है PUBG: PUBG एक ऑनलाइन वीडियो गेम है, जिसकी डिवेलपर एक साउथ कोरियन कंपनी ‘ब्लूहोल’ है। दुनियाभर में इस गेम के करीब 20 करोड़ से ज्यादा प्लेयर्स हैं। इसे कई जगहों पर ई-स्पोर्ट्स की तरह खेला जाता है। PUBG की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि लोग PUBG रेस्टोरेंट खोल रहे हैं। साथ ही, इस थीम पर ही शादियां भी हो रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App