ताज़ा खबर
 

Chhattisgarh: 500 यूनिट बिजली तक का बिल होगा आधा, सरकार पर आएगा 3 करोड़ का अतिरिक्त भार

छत्तीसगढ़ की जनता को नई सरकार ने बिजली के बिल के भार से राहत पहुंचाने का निर्णय लिया है। दरअसल महीने में 500 यूनिट से कम बिजली खपत करने वाले उपभोक्ताओं के बिल को आधा करने की बात सामने आ रही है।

प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

छत्तीसगढ़ की जनता को नई सरकार ने बिजली के बिल के भार से राहत पहुंचाने का निर्णय लिया है। दरअसल महीने में 500 यूनिट से कम बिजली खपत करने वाले उपभोक्ताओं के बिल को आधा करने की बात सामने आ रही है। हालांकि इस बात की अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। लेकिन विद्युत मंडल के अफसरों के मुताबिक विधानसभा सत्र खत्म होने के बाद कभी भी इसकी घोषणा की जा सकती है।

व्यवसायिक उपभोक्ताओं को नहीं मिलेगी छूट: दरअसल मध्यमवर्गीय घरों में बिजली की खपत करीबन 500 यूनिट तक ही होती है, इसलिए सरकार के इस फैसले से महंगी बिजली से जनता को फायदा मिलनी की बात कही जा रही है। बता दें कि रायगढ़ सर्कल के तीनों डिवीजन के अंतर्गत कुल 2.87 लाख विद्युत उपभोक्ता हैं। इनमें से एपीएल, बीपीएल मिलाकर कुल करीब 2.40 लाख घरेलू कनेक्शन हैं। इनमें से करीब 75 हजार उपभोक्ताओं की मासिक खपत 500 यूनिट से कम है।

3 करोड़ रुपए का अतिरिक्त भार: जानकारी के मुताबिक सर्दी में हर महीने करीब 2.87 लाख उपभोक्ताओं द्वारा साढ़े 7 करोड़ा यूनिट बिजली की खपत है। इस पर कुल 30 से 32 करोड़ रुपए का राजस्व हर महीने प्राप्त होता है। नई घोषणा के बाद कुल राजस्व में करीब 8 फीसदी तक कमी आएगी, जो कि ढाई से तीन करोड़ रुपए होगी। इसकी भरपाई हर महीने शासन को करनी होगी।

दिल्ली- एमपी में 400 यूनिट: बता दें कि छत्तीसगढ़ से पहले दिल्ली और मध्यप्रदेश सरकार ने बिजली बिल माफ किया है। यहां 400 यूनिट से कम बिजली खपत करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं को इसका लाभ मिल रहा है। वहीं बिल इससे अधिक यूनिट का होने पर उन्हें सामान्य दरों के हिसाब से बिल भुगतान करना पड़ता है।

जारी है तैयारी: विद्युत मंडल के अधीक्षण अभियंता बीएल वर्मा का कहना है कि बिजली बिल हाफ करने पर बोर्ड स्तर पर तैयारी चल रही है। हालांकि इस बारे में अभी कुछ भी कहना अभी जल्दी होगी क्योंकि अभी तक आधिकारिक घोषणा होना बाकी है।

Next Stories
1 गोपाल भार्गव चुने गए मध्य प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष, जानिए क्यों कहे जाते हैं ‘शादी बाबा’
2 मेघालय: भाजपा कार्यालय पर बम से हमला, पार्टी चीफ के चैंबर को नुकसान
3 General Category Reservation: पहले भी कई सरकारों ने दिया सवर्णों को आरक्षण, हर बार कोर्ट ने किया खारिज
ये पढ़ा क्या?
X