ताज़ा खबर
 

पंजाब: सरकारी रिपोर्ट में 3017 टीचर्स ‘फेल’, सबसे खराब प्रदर्शन करने वालों की ‘स्‍पेशल क्‍लास’ लेंगे शिक्षा मंत्री

2011 से 2015 के दौरान पंजाब बोर्ड परीक्षा में जिस टीचर की क्‍लास के कम से कम आधे बच्‍चे फेल हो गए, उन्‍हें इस लिस्‍ट में रखा गया है।

Author लुधियाना | Published on: December 23, 2015 11:13 AM
पंजाब के शिक्षा मंत्री दलजीत सिंह चीमा ने सबसे खराब परफॉर्म करने वाले 186 टीचर्स को 6 जनवरी को मोहाली बुलाया है।

पंजाब सरकार ने राज्‍य के 3017 सरकारी शिक्षकों को खराब काम करने वालों की लिस्‍ट में रखा है। यह लिस्‍ट 2011 से 2015 तक दसवीं और बारहवीं के छात्रों के नतीजों के आधार पर तैयार की गई है। बोर्ड परीक्षा में जिसकी क्‍लास के कम से कम आधे बच्‍चे फेल हो गए, उस टीचर को इस लिस्‍ट में रखा गया है। इसे मंगलवार को शिक्षा मंत्री दलजीत सिंह चीमा ने जारी किया।

लिस्‍ट में सबसे ज्‍यादा 488 टीचर जालंधर के हैं। इसमें लुधियाना के 441, बरनाला के 133, भटिंडा के 106, फरीदकोट के 101, होशियारपुर के 126, कपूरथला के 190, मोगा के 154, पटियाला के 235, संगरूर के 229 और मोहाली के 210 टीचर हैं।

32 टीचर ‘जीरो पर्सेंट’ रिजल्‍ट कैटेगरी में रखे गए हैं। ये वे टीचर हैं जिनकी पूरी क्‍लास पिछले पांच साल में कम से कम एक बार फेल हुई थी। सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले 186 शिक्षकों को चीमा ने 6 जनवरी को ‘स्‍पेशल क्‍लास’ के लिए मोहाली बुलाया है। इनसे स्‍पष्‍टीकरण और प्रदर्शन सुधारने का प्‍लान पूछा जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
जस्‍ट नाउ
X