ताज़ा खबर
 

DDC चुनाव परिणाम के बाद PDP की पूर्व विधायक पर ED का ऐक्शन, दिल्ली और श्रीनगर के आवास पर हुई कार्रवाई

अंजुम फालिजी के खिलाफ ईडी की कार्रवाई से एक दिन पहले DDC चुनाव के नतीजे घोषित किए गए।

rupees, currency, indian rupees, rupyaप्रतीकात्मक तस्वीर।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जम्मू-कश्मीर में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की पूर्व मनोनीत विधायक अंजुम फाजिली के श्रीनगर और दिल्ली स्थित आवास पर बुधवार को छापेमारी की। उन पर केंद्र शासित प्रदेश में हवाला के जरिए आतंकियों को फंडिंग का आरोप है। छापेमारी में ईडी ने 28 लाख से ज्यादा की नकदी बरामद की है।

आतंकियों को फंडिंग के मामले में ईडी और एनआईए इससे पहले कई संगठनों, अलगाववादियों, हुर्रियत नेताओं के आवास पर रेड मार चुकी है। इसमें मोहम्मद यूसुफ सोफी, खुर्रम परवेज और अन्य नेता शामिल हैं। जांच में पाया गया कि कई एक्टिविस्टों ने आतंकियों को शरण दी। इससे पहले पिछले साल नई दिल्ली में एनआईए जेकेएलएफ चीफ यासीन मलिक, आयशा अंद्राबी और मसर्रत आलम से पूछताछ कर चुकी है। इसके बाद एनआईए ने कई लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है। जांच में सामने आया है कि आयशा और अन्यों के पाकिस्तान स्थित आतंकियों संगठन से लिंक थे।

बता दें कि बुधवार को अंजुम फालिजी के खिलाफ ईडी की कार्रवाई से एक दिन पहले DDC चुनाव के नतीजे घोषित किए गए। जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद (डीडीसी) की 280 सीटों में से गुपकर गठबंधन ने सबसे अधिक 110 सीटों पर जीत दर्ज की है। जबकि 75 सीटों पर जीत दर्ज कर भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है और वोट प्रतिशत के मामले में भी भगवा पार्टी पहले स्थान पर है। अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि दो निर्वाचन क्षेत्रों- बांदीपोरा और कुपवाड़ा जिले की एक-एक सीट- पर चुनाव परिणामों का इंतजार हैं क्योंकि अगले आदेश तक मतगणना रोक दी गई है। केन्द्र शासित प्रदेश में डीडीसी की 280 सीटों पर आठ चरणों में मतदान कराया गया। यह 28 नवम्बर से शुरू हुआ था और 19 दिसम्बर को संपन्न हुआ। मतगणना मंगलवार सुबह शुरू हुई थी। अगस्त, 2019 में संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त कर जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म कर दिए जाने के बाद से इस केंद्र शासित प्रदेश में यह पहला चुनाव है।

चुनाव में कुल 280 सीटें (जम्मू की 140 और कश्मीर की 140) पर मतदान हुआ। केंद्रशासित क्षेत्र के 20 जिलों में प्रत्येक में डीडीसी की 14-14 सीटें हैं। जम्मू-कश्मीर चुनाव आयोग ने अभी तक 280 में से 278 सीटों के चुनाव परिणामों की घोषणा कर दी है। गुपकर गठबंधन और भाजपा के अलावा 50 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है। वहीं कांग्रेस को 26, अपनी पार्टी को 12, पीडीएफ और नेशनल पैंथर्स पार्टी को दो-दो और बसपा को एक सीट पर जीत मिली है।

Next Stories
1 किसान आंदोलन: सरकारी खत का संयुक्त किसान मोर्चा ने केंद्र को लिखा जवाब, पढ़िए चिट्ठी
2 वीडियो: देश के पहले शिक्षा मंत्री अबुल कलाम आजाद के मन में भारत के लिए कोई जगह नहीं थी- योगी सरकार में मंत्री का विवादित बयान
3 खालिस्तानी आतंकी गुरजीत सिंह निज्जर दिल्ली एयरपोर्ट से गिरफ्तार, सुरक्षा एजेंसियों को लंबे समय से थी तलाश
ये पढ़ा क्या?
X