ताज़ा खबर
 

उत्तराखंड के बाद अब दिल्ली-एनसीआर में भी तेज आंधी

शुक्रवार (1 जून) को खिली धूप और उमस के साथ बीता दिल्ली एनसीआर का दिन शाम होते-होते धूलभरी आंधी में तब्दील हो गया। इस धूल भरी आंधी से कहां क्या नुकसान हुआ, यह तो खबर लिखे जाने तक पता नहीं चल पाया था, लेकिन मौसम के अचानक यूं करवट बदलने से भीषण गर्मी से झुलस रहे लोगों को राहत की सांस जरूर मिली।

शास्त्री भवन के पास की तस्वीर। (सोर्स- एएनआई)

शुक्रवार (1 जून) को खिली धूप और उमस के साथ बीता दिल्ली एनसीआर का दिन शाम होते-होते धूलभरी आंधी में तब्दील हो गया। इस धूल भरी आंधी से कहां क्या नुकसान हुआ, यह तो खबर लिखे जाने तक पता नहीं चल पाया था, लेकिन मौसम के अचानक यूं करवट बदलने से भीषण गर्मी से झुलस रहे लोगों को राहत की सांस जरूर मिली। वहीं कुछ इलाकों की बिजली गुल होने की बात सामने आई। शाहदरा में आंधी के कारण मेट्रो रुकी रही। इंटरनेट से प्राप्त जानकारी के मुताबिक शुक्रवार के दिल्ली एनसीआर के मौसम में कुछ बादलों के छाए रहने की भविष्यवाणी की गई थी। दिल्ली का अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 29 डिग्री बताया गया। वहीं 42 किमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चलने की बात कही गई थी। इस दौरान हवा में 44 फीसदी नमी पाए जाने का भी अनुमान लगाया गया था। गूगल से प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार से लेकर अगले बुधवार तक मौसम साफ रहने के आसार जताए गए हैं। इस दौरान दिन में धूप खिली रहेगी, लेकिन तापमान में कुछ खास अंतर नहीं रहेगा।

अगले हफ्ते गुरुवार और शुक्रवार को बादल छाए रहेंगे और तापमान में भी गिरावट देखी जा सकती है। बता दें कि पिछले महीने कई दफा ऐसा हुआ जब मौसम विज्ञानियों के अनुमान सटीक बैठे। पिछले दिनों उत्तर भारत के कई इलाकों में आंधी-तूफान के कारण भारी तबाही देखी गई। मौसम के जानकारों के अनुसार मौजूदा फौरी राहत के बाद अगले कुछ दिनों तक दिल्ली वालों को उमस भरी गर्मी परेशान करेगी क्योंकि पश्चिमी विक्षोभ या चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बनता नहीं दिखाई दे रहा है।

मौसम संबंधी भविष्यवाणी करने और वर्तमान मौसम बताने वाली कंपनी स्काईमेट वेदर के अनुसार 15 जून से मानसून पू्र्व की हलचल शुरू हो जाएगी और तब दिल्ली वालो को उमस भरी गर्मी से राहत मिल सकने की उम्मीद जताई गई है। मौसम विज्ञानियों के अनुसार इस बार दिल्ली में 28 जून के आसपास मानसून दिल्ली में दस्तक देगा। वहीं शुक्रवार को ही उत्तराखंड के उत्तरकाशी, टिहरी, पौड़ी और बालाकोट में मौसम का विकराल रूप देखा गया। यहां बादल फटने से भारी नुकसान की खबरें आ रही हैं। उत्तराखंड में मौसम विभाग ने 36 घंटों का अलर्ट जारी किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App