ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली: जिस लड़की पर फेंका गया सीमन भरा गुब्‍बारा, वह बोली- शर्मिंदा नहीं हूं पर यह बेहद घिनौना है

दिल्ली यूनिवर्सिटी की लड़की पर वीर्य(सीमेन) भरा गुब्बारा फेंकने का मामला तूल पकड़ता दिख रहा है। जीसस एंड मेरी कॉलेज के छात्रों और शिक्षकों ने गुरुवार(एक, मार्च) को राजधानी स्थित पुलिस हेडक्वार्टर पर प्रदर्शन किया। उन्होंने होली के मौके पर अभद्रता रोकने की मांग की।

Author नई दिल्ली | March 1, 2018 3:42 PM
दिल्ली यूनिवर्सिटी की वह छात्रा,जिस पर शोहदों ने सीमन भरा गुब्बारा फेंका। ( फोटो-एएनआई)

दिल्ली यूनिवर्सिटी की लड़की पर वीर्य(सीमेन) भरा गुब्बारा फेंकने का मामला तूल पकड़ता दिख रहा है। जीसस एंड मेरी कॉलेज के छात्रों और शिक्षकों ने गुरुवार(एक, मार्च) को राजधानी स्थित पुलिस हेडक्वार्टर पर प्रदर्शन किया। उन्होंने होली के मौके पर अभद्रता रोकने की मांग की।

उधर पीड़ित लड़की ने इस मसले पर बोलते हुए कहा कि वह घटना के बाद बिल्कुल शर्मिंदा नहीं है, लेकिन जिन लोगों ने यह काम किया , वो निहायत ही घिनौन था। लड़की ने कहा-मैं बस में थी, बाहर से लड़कों के ग्रुप ने मेरे ऊपर सीमेन भरा गुब्बारा फेंका। मैं इससे शर्मिंदा नहीं हुई मगर यह बहुत घिनौना था। यह देखना डरावना है कि मानवता इस कदर गर्त में जा रही है। किसी लड़की पर सीमेन फेंकना उसकी गरिमा के खिलाफ है।

बता दें कि लेडी श्रीराम कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा के साथ दिल्ली केअमर कॉलोनी इलाके में होली की आड़ में शोहदों ने शर्मनाक घटना की थी। उस पर वीर्य भरा गुब्बारा फेंक दिया था। जिसके बाद छात्रा ने सोशल मीडिया ने लिखकर गुस्से का इजहार किया था। यह पोस्ट वायरल होने पर जिला पुलिस उपायुक्त चिन्मय बिश्वाल ने कहा था कि अमर कॉलोनी स्थिति कैफे के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। आरोपियों की तलाश चल रही है।

लड़की ने सोशल मीडिया पर लिखी पोस्ट में कहा था कि वह रविवार शाम को अपने दोस्त के साथ अमर कॉलोनी स्थित एक कैफे में गई हुई थी, जहां से लौटते समय बाइक सवार युवकों ने उसके ऊपर तरल पदार्थ से भरा गुब्बारा फेंका। गुब्बारा फटने से कपड़े गंदे हो गए। जब वह हॉस्टल पहुंची तो पता चला कि तरल पदार्थ सीमेन है। इस घटना पर दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्राओं में गुस्सा है। उन्होंने दिल्ली पुलिस से कार्रवाई की मांग की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App