ताज़ा खबर
 

बिना इंजन वाली ट्रेन-18 दिल्ली-वाराणसी के बीच दौड़ेगी, 29 दिसंबर को हरी झंडी दिखाएंगे पीएम मोदी

देश में बिना इंजन वाली सबसे तेज रफ्तार ट्रेन-18 दिल्ली से वाराणसी के बीच चलेगी। सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 दिसंबर को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से इस ट्रेन को हरी झंडी दिखा सकते हैं।

Author December 20, 2018 8:38 AM
ट्रेन-18 को नई दिल्ली और वाराणसी के बीच शुरू किया जाएगा। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

देश में बिना इंजन वाली सबसे तेज रफ्तार ट्रेन-18 दिल्ली से वाराणसी के बीच चलेगी। सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 दिसंबर को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से इस ट्रेन को हरी झंडी दिखा सकते हैं। यह ट्रेन शताब्दी ट्रेनों की जगह लेगी।

8 घंटे में पार करेगी 800 किलोमीटर
शुरुआती योजना के मुताबिक, ट्रेन-18 दिल्ली से सुबह 6 बजे चलेगी और दोपहर 2 बजे वाराणसी पहुंच जाएगी। करीब 800 किमी की दूरी यह ट्रेन 8 घंटे में तय करेगी। वहीं, दिल्ली के लिए दोपहर 2:30 बजे वाराणसी से रवाना होगी और रात 10:30 बजे राष्ट्रीय राजधानी पहुंचेगी।

कोटा-सवाई माधोपुर सेक्शन में हुआ ट्रायल
2 दिसंबर को ट्रेन-18 का ट्रायल रन कोटा-सवाई माधोपुर सेक्शन में किया गया था। उस दौरान ट्रेन ने 180 किमी/घंटा की रफ्तार पार की थी। चेन्नई की कोच फैक्ट्री में 100 करोड़ की लागत से बनी ट्रेन-18 ने गतिमान ट्रेन का रिकॉर्ड तोड़ा था। गतिमान की टॉप स्पीड 160 किमी/घंटा है।

200 किमी/घंटा हो सकती है रफ्तार
ट्रायल रन के बाद अधिकारियों ने दावा किया था कि यह ट्रेन 200 किमी/घंटा की रफ्तार तक पहुंच सकती है। यह ट्रेन मेक इन इंडिया के तहत शुरू हुई परियोजनाओं में से एक है। अधिकारियों के मुताबिक, भारत में निर्माण होने की वजह से ट्रेन-18 की लागत घटी है। वहीं, रफ्तार की वजह से यात्रा का समय 10-15% तक घटने की भी उम्मीद है।

 

360 डिग्री घूमने वाली सीटें हैं इस ट्रेन में
ट्रेन 18 में 360 डिग्री तक घूमने वाली सीटें हैं। इनके अलावा एडवांस ब्रेकिंग सिस्टम है, जिससे ऊर्जा की बचत होती है। एयरोडायनैमिक डिजाइन वाले ड्राइवर केबिन ट्रेन के दोनों सिरों पर लगाए गए हैं, ताकि मंजिल तक पहुंचने के बाद ये तुरंत वापस लौट सकें। हालांकि, ऐसा सिस्टम दो शहरों के बीच चलने वाली ईएमयू और मुंबई लोकल ट्रेनों में भी दिखता है, लेकिन तेज गति की किसी ट्रेन में इसे पहली बार लागू किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 बीजेपी कार्यकर्ता की पीएम को दो टूक- टैक्स वसूलने पर सारा ध्यान है, मध्य वर्ग को राहत भी तो दीजिए
2 1984 सिख विरोधी दंगे : एक और मामले में 22 को आएगा फैसला, बढ़ सकती हैं सज्जन कुमार की मुश्किलें
3 पश्चिम बंगाल में बीजेपी की रथयात्रा पर कलकत्ता हाईकोर्ट आज सुनाएगी फैसला