ताज़ा खबर
 

कैश या जूलरी नहीं, नोएडा में हर हफ्ते चुरा लिए जाते हैं 12 पिज्जा

पुलिस का कहना है कि उनकी नजर में एेसी घटनाएं आई हैं, लेकिन वह कोई एक्शन नहीं ले सकते, क्योंकि इसे लेकर कोई मामला ही दर्ज नहीं होता।

एक डोमिनोज रेस्तरां के मैनेजर ने कहा कि हमने इसके बारे में लिखित शिकायत दी है, लेकिन कोई एफआईआर दर्ज नहीं की जाती।

नोएडा में स्नैचिंग और डकैती आम बात है। हर दिन अखबारों में शहर के विभिन्न हिस्सों से एेसी खबरें आती रहती हैं। लेकिन अगर आप सोचते हैं कि सिर्फ सेलफोन और कैश ही चुराया जाता है तो फिर सोच लीजिए। इन दिनों नोएडा में चोरों ने पिज्जा भी चुराना शुरू कर दिया है। जी हां! पिज्जा पहुंचाने वालों का कहना है कि औसतन हर महीने शहर में पिज्जा चोरी की 8-10 घटनाएं होती हैं, लेकिन इस बारे में कोई मामला दर्ज नहीं होता। टाइम्स अॉफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक हर हफ्ते नोएडा में एक दर्जन पिज्जा चुराए जाते हैं।

शहर में पिज्जा पहुंचाने वाले लड़कों का कहना है कि कितने पिज्जा चुराए जाते हैं, इसका कोई आंकड़ा नहीं है, लेकिन औसतन हर हफ्ते एक दर्जन से ज्यादा पिज्जा चुरा लिए जाते हैं। डोमिनोज में पिज्जा डिलीवरी बॉय रमेश ने टीओआई को बताया, अब यह तो नहीं कह सकते कि पूरे नोएडा में कितनी चोरी होती है पर सुनने में आता है सबसे कि हफ्ते में 2-3 हो जाती हैं।

HOT DEALS
  • Lenovo Phab 2 Plus 32GB Gunmetal Grey
    ₹ 17999 MRP ₹ 17999 -0%
    ₹900 Cashback
  • Coolpad Cool C1 C103 64 GB (Gold)
    ₹ 11290 MRP ₹ 15999 -29%
    ₹1129 Cashback

रमेश के एक साथी बताते हैं कि चोर सिर्फ एक ही पिज्जा नहीं चुराते, वह आपके सारे पिज्जा ले जाते हैं। एक पिज्जा डिलीवरी बॉय के पास 4-5 पिज्जा होते हैं। हाल ही में चोरी की घटना 6 जनवरी को हुई थी, जब नोएडा के सेक्टर 58 में रजनीश पिज्जा पहुंचाने गए। उन्होंने बताया, मैंने अपनी बाइक पार्किंग में लगाई और अड्रेस ढूंढने लगा। तभी बाइक पर तीन लोग आए और पिज्जा छीनकर सेक्टर 57 की ओर भागे। इत्तेफाक से उसी एरिया में एक पीसीआर वैन गश्त लगा रही थी। रजनीश ने यह वाकया पुलिस को बताया और चोरों को 15 मिनट के भीतर सेक्टर 57 की रेड लाइट पर पकड़ लिया गया।

हालांकि यह सिर्फ एक घटना है, लेकिन शायद ही कभी पिज्जा चोरी की घटनाओं की शिकायत दर्ज की जाती हो। नोएडा में एक डोमिनोज रेस्तरां के मैनेजर ने कहा कि हमने इसके बारे में लिखित शिकायत दी है, लेकिन कोई एफआईआर दर्ज नहीं की जाती। उन्होंने बताया कि लिखित शिकायत जरूरी होती है क्योंकि हमें चुराए हुए पिज्जा के बारे में अपने सीनियर्स को जानकारी देनी होती है। लेकिन एफआईआर का झंझट कौन लेगा, पिज्जा ही तो है। वहीं पुलिस का कहना है कि उनकी नजर में एेसी घटनाएं आई हैं, लेकिन वह कोई एक्शन नहीं ले सकते, क्योंकि इसे लेकर कोई मामला ही दर्ज नहीं होता।

उत्तर प्रदेश: पुलिस ने पिता पुत्री को किया गिरफ्तार, शादियों में चोरी करने का आरोप, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App