ताज़ा खबर
 

खुशहाली की कक्षा में मेलानिया की परी-कथा

सोशल मीडिया पर कपड़ों के चयन में मेलानिया ट्रंप को पूरे नंबर दिए गए। उनके परिधान में इस्तेमाल किए गए कॉलर और बेल्ट औपचारिक समारोह के हिसाब से बेहतर रहा जिसमें ग्लैमर व सादगी का मिश्रण था। कॉलर और बेल्ट ड्रेस इन दिनों पूरी दुनिया में चलन में हैं और मेलानिया ने उस पर अपनी भी मुहर लगा दी है।

Author Updated: February 26, 2020 2:21 AM
मेलानिया के स्वागत में स्कूल को फूलों से सजाया गया था।

मृणाल वल्लरी

नई दिल्ली। ‘वेलकम फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप’। दिल्ली में एक सर्वोदय स्कूल की कक्षा में अच्छी तरह से सजाए गए खुशहाली की कक्षा में मंगलवार को जब अमेरिका की प्रथम महिला पहुंचीं तो बच्चों के लिए यह परीकथा सरीखा था। सफेद पर बहुरंगे प्रिंट के परिधान में पहुंचीं मेलानिया बच्चों को समझने में शिक्षिकाओं ने मदद की लेकिन वे बहुत जल्दी बच्चों और वहां के माहौल से घुलमिल गर्इं।

छोटी सी हरी कुर्सी पर बैठते ही बच्चों से दोस्ती करने का भाव उनके चेहरे पर तैरने लगा था। उन्होंने बच्चों के साथ एक घंटे का वक्त बिताया। बातचीत के दौरान एक छात्रा प्यार से उनके गले लग गई। एक कक्षा में छात्रा ने अपना प्रोजेक्ट उन्हें दिखाया। राजस्थानी लोकगीत और गिद्धा की प्रस्तुति उन्हें खासी पसंद आई। गेंदे के फूलों की माला और माथे पर तिलक के साथ कई बार वे बहुत भावुक नजर आर्इं। एक छात्रा ने कहा कि मुझे तो लगा कि हमारे बीच कोई एंजेल (परी) आ गई थी। मेलानिया ने कहा कि वे इस पाठ्यक्रम से प्रेरित हैं। इसने शिक्षकों के लिए ‘स्वस्थ एवं सकारात्मक’ उदाहरण निर्धारित किया है। मेलानिया के मोती बाग स्थित सर्वोदय सह-शिक्षा उच्चतम माध्यमिक विद्यालय पहुंचने पर परंपरागत परिधान पहने उत्साहित छात्रों ने उनका स्वागत किया।

मेलानिया के स्वागत में स्कूल को फूलों से सजाया गया था। स्कूल में अनेक स्थानों पर फूलों से रंगोली बनाई गई थी। छात्रों के बैंड ने बैगपाइप बजाकर अमेरिका की प्रथम महिला का स्वागत किया। मेलानिया ने स्कूल का दौरा किया और छोटे बच्चों के लिए पढ़ने के कक्ष व गतिविधि कक्ष में भी गईं। उन्होंने विद्यालय में योग सत्र भी देखा और छात्रों से बात भी की। छात्रों को संबोधित करते हुए मेलानिया ने उनके स्वागत के लिए विद्यालय प्रशासन को धन्यवाद भी दिया। उन्होंने कहा, ‘मेरा स्वागत करने के लिए शुक्रिया। यह भारत का मेरा पहला दौरा है। यहां के लोग बेहद उत्साह से स्वागत करने वाले व उदार हैं’। उन्होंने कहा कि यह बेहद प्रेरक है कि छात्र अपने दिन की शुरुआत सचेतन तरीके से प्रकृति से जुड़कर करते हैं। शिक्षकों के लिए एक स्वस्थ व सकारात्मक उदाहरण पेश किया गया है जिससे वे आशापूर्ण भविष्य तय हो सके’। छात्रों ने भारतीय और अमेरिकी झंडे लहरा कर उनका अभिवादन किया और उन्हें तोहफे में एक मधुबनी पेंंिटग भी दी। मेलानिया के स्कूल में आने पर उत्साहित छात्रों ने उन्हें माला पहनाई और उनके माथे पर टीका लगा कर पारंपरिक तरीके से उनका स्वागत किया। इस दौरान उन्हें फूलों का गुलदस्ता भी भेंट किया गया। इन औपचारिकताओं के बाद प्रथम महिला ने दीप जलाए।

उनकी यात्रा के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनके स्वागत में ट्वीट किया था, ‘मेलानिया आज हमारे स्कूल में हैप्पीनेस क्लास में शामिल होंगी। हमारे शिक्षकों, छात्रों और दिल्लीवासियों के लिए खास दिन। भारत सदियों से दुनिया को आध्यात्मिकता की शिक्षा देता आया है। मुझे खुशी है कि वह हमारे स्कूल से प्रसन्नता का संदेश ले कर जाएंगी’। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी ट्वीट कर उनका स्वागत किया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘हमारे स्कूल में स्वागत है अमेरिका की प्रथम महिला। हमें उम्मीद है कि हैप्पीनेस क्लास में आपको बेहद अच्छा लगेगा।

फैशन की कूटनीति में अव्वल नंबर ले गईं मेलानिया और इवांका भी नहीं रहीं पीछे
अमदाबाद में एअरफोर्स वन से उतरते ही मेलानिया ट्रंप ने अपनी परिधान की पसंदगी से फैशन में रुचि लेने वालों का दिल जीत लिया। क्रेप के जम्प सूट को बेल्ट के साथ इस्तेमाल कर मेलानिया ट्रम्प काफी आकर्षक लग रही थीं। वहीं दिल्ली की खुशहाली की कक्षा में जब वो प्रिंट वाली शर्ट ड्रेस के साथ बच्चों के बीच पहुंची तो यह परिधान उन्हें बच्चों के और करीब ले जा रहा था। वहां भी मेलानिया ने सफेद रंग की शर्ट-ड्रेस पहनी थी जिसे वेनेजुएला के फैशन डिजाइनर कैरोलिना हेरेरा ने डिजाइन किया था। राजनयिकों के लिए परिधान, पहचान के साथ कूटनीति का भी हिस्सा होता है। कपड़ों की कूटनीति में सादगी और औपचारिक का चयन कर मेलानिया ने तारीफों का रुख अपनी ओर मोड़ लिया।

इवांका का जलवा
वहीं फैशन डिजायनरों की नजर थी कि अमेरिकी राष्ट्रपति के परिवार में से भारतीय डिजायनर का झंडा कौन बुलंद करेगा तो वह डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका की तरफ से हुआ। मंगलवार को इवांका राष्ट्रपति भवन में परंपरागत स्वागत के अवसर पर भारतीय डिजाइनर द्वारा डिजाइन किया गया भारतीय परिधान पहनकर आर्इं। पश्चिम बंगाल की सिल्क से बनी शेरवानी में वे बेहद खूबसूरत नजर आ रही थीं। यह शेरवानी मुर्शिदाबाद से लाए गए और हथकरघे से बुने रेशम के कपड़े से बनाई गई थी।
डिजाइनर अनीता डोंगरे ने अपने बयान में कहा, ‘शेरवानी एक सदाबहार परिधान है। यह स्टाइल हमने 20 वर्ष पहले तैयार की थी और अच्छी बात यह है कि यह परिधान आज भी कितनी खूबसूरती के साथ प्रासंगिक बना हुआ है। एक दमदार, अलग नजर आने वाला परिधान शेरवानी हर रंग में करिश्माई लगता है लेकिन मुझे व्यक्तिगत तौर पर सदाबहार नीला, सफेद और काला रंग पसंद है।’
सोशल मीडिया पर कपड़ों के चयन में मेलानिया ट्रंप को पूरे नंबर दिए गए। उनके परिधान में इस्तेमाल किए गए कॉलर और बेल्ट औपचारिक समारोह के हिसाब से बेहतर रहा जिसमें ग्लैमर व सादगी का मिश्रण था। कॉलर और बेल्ट ड्रेस इन दिनों पूरी दुनिया में चलन में हैं और मेलानिया ने उस पर अपनी भी मुहर लगा दी है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X