ताज़ा खबर
 

केरल : अवैध निर्माण रोकने गई महिला IAS से माकपा विधायक ने की अभद्रता, कहा- ‘बिना दिमाग वाली’

केरल के मुन्नार हिल स्टेशन स्थित व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स में हो रहा अवैध निर्माण रुकवाने की कोशिश कर रही महिला आईएएस पर माकपा विधायक ने अभद्र टिप्पणी कर दी। उन्होंने महिला आईएएस को ‘बिना दिमाग वाली’ कहा, जिसके बाद काफी विवाद हो रहा है।

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा)

केरल के मुन्नार हिल स्टेशन स्थित व्यवसायिक कॉम्प्लेक्स में हो रहा अवैध निर्माण रुकवाने की कोशिश कर रही महिला आईएएस पर माकपा विधायक ने अभद्र टिप्पणी कर दी। उन्होंने महिला आईएएस को ‘बिना दिमाग वाली’ कहा, जिसके बाद काफी विवाद हो रहा है। यह घटना शुक्रवार की है, लेकिन इसका खुलासा तब हुआ, जब कुछ स्थानीय चैनलों ने मामले की फुटेज प्रसारित की।

यह है मामला : इडुक्की के कुछ स्थानीय टीवी चैनलों ने देवीकुलम के माकपा (सीपीआईएम) विधायक एस. राजेंद्रन का एक वीडियो फुटेज प्रसारित किया। इसमें वे लोगों के एक ग्रुप के बीच सब-कलेक्टर डॉ. रेणु राज पर दिमाग न होने वाली टिप्पणी कर रहे हैं। राजेंद्रन ने सब-कलेक्टर के लिए कहा, ‘‘उनके पास दिमाग नहीं है। उन्होंने सिर्फ कलेक्टर बनने के लिए पढ़ाई की है। इन लोगों के पास दिमाग काफी कम होता है। क्या उन्हें स्केच और प्लान की जानकारी हासिल नहीं करनी चाहिए। एक कलेक्टर पंचायत के निर्माण में दखल नहीं दे सकती है। यह लोकतांत्रिक देश है।’’

6 फरवरी को जारी किया गया था नोटिस : बता दें कि डॉ. रेणु राज को नवंबर 2018 में देवीकुलम का सब-कलेक्टर बनाया गया था। उन्होंने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया, ‘‘अवैध निर्माण रोकने के लिए 6 फरवरी को पंचायत को नोटिस जारी किया गया था। इसके बावजूद काम चल रहा था।’’ वहीं, रेवेन्यू मिनिस्टर ई चंद्रशेखरन भी सब-कलेक्टर के समर्थन में उतर आए हैं।

राजस्व मंत्री ने किया सब-कलेक्टर का समर्थन : राजस्व मंत्री ने कहा, ‘‘कानून के मुताबिक सब-कलेक्टर द्वारा की जा रही कार्रवाई सही है। वह नियमों के हिसाब से ही कार्रवाई कर रही थीं। हमें उनका समर्थन करना चाहिए। केरल हाईकोर्ट ने 2010 में मुन्नार में नए निर्माण को लेकर फैसला दिया था, जिसके तहत एनओसी लेना अनिवार्य है।’’ वहीं, सब-कलेक्टर डॉ. राज ने बताया कि करीब एक करोड़ की लागत से बन रही इस चार मंजिला इमारत के लिए कोई इजाजत नहीं ली गई। वहीं, इडुक्की जिले की माकपा इकाई ने कहा है कि वह विधायक से स्पष्टीकरण मांगेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App