ताज़ा खबर
 

बूचड़खानों पर कार्रवाई: योगी आदित्‍य नाथ सरकार के मंत्री बोले- अति उत्‍साह में ना आएं अधिकारी

लखनऊ समेत दूसरे जिलों में भी मटन और चिकन बेचने वाले लोगों द्वारा हड़ताल करने का ऐलान किया गया है। इस हड़ताल में अब उनका साथ मछली विक्रेता भी दे रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह। (File Photo)

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्‍यनाथ सरकार की अवैध रूप से चलने वाले बूचड़खानों को बंद करने की कार्रवाई के बीच मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने अधिकारियों से कहा कि वे इस मामले में अति उत्‍साह में काम ना करें। उन्होंने कहा कि अवैध रूप से चलने वाले बूचड़खानों पर ही कार्रवाई की जाए। जिनके पास लाइसेंस हैं उन्‍हें परेशान ना किया जाए। बता दें कि बूचड़खानों पर कार्रवाई के बाद राज्‍य के मांस विक्रताओं ने हड़ताल पर जाने का ऐलान किया है। सिद्धार्थनाथ सिंह ने एएनआई से बातचीत के दौरान कहा सरकार ने चिकन और अंडे की दुकानों को बंद करने के लिए नहीं कहा है तो जो भी यह अफवाह उड़ा रहा है लोग उनकी अफवाहों पर ध्यान न दें। उन्होंने कहा कि यह कार्रवाई सिर्फ उन बूचड़खानों पर की जा रही है जो कि अवैध रूप से चल रहे हैं, इसलिए उन लोगों को डरने की जरूरत नहीं है जिनके पास लाइसेंस हैं।

HOT DEALS
  • Honor 9 Lite 64GB Glacier Grey
    ₹ 16999 MRP ₹ 17999 -6%
    ₹2000 Cashback
  • MICROMAX Q4001 VDEO 1 Grey
    ₹ 4000 MRP ₹ 5499 -27%
    ₹400 Cashback

आपको बता दें कि लखनऊ समेत दूसरे जिलों में भी मटन और चिकन बेचने वाले लोगों द्वारा हड़ताल करने का ऐलान किया गया है। इस हड़ताल में अब उनका साथ मछली विक्रेता भी दे रहे हैं। मछली बेचने वालों के भी हड़ताल पर जाने के बाद लोगों को काफी दिक्कते आने वाली है। बूचड़खानों पर हो रही इस कार्रवाई के बाद प्रदेश के कई होटल खाली पड़े हैं। वहीं 100 साल में पहली बार लखनऊ की मशहूर टुंडे कबाब की दुकान भी बूचड़खानों पर होती इस कार्रवाई के बाद बंद रही क्योंकि उन्हें ग्राहकों को कबाब परोसने के लिए मटन और चिकन नहीं मिल पाया।

गौरतलब है कि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्‍य नाथ के नेतृत्व में उत्‍तर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद से अवैध बूचड़खानों और मांस की दुकानों पर कार्रवाई की गई है। इसके चलते भैंस, बकरी और चिकन के मांस की लखनऊ में कमी हो गई है। सोमवार (20 मार्च) को इलाहाबाद में दो बूचड़खाने और मंगलवार (21 मार्च) को वाराणसी में 1 तथा गाजियाबाद में करीब अवैध 15 स्लाटर हाउस को बंद किया गया था। इसके बाद से कहा जा रहा है कि जल्द ही राज्य में चल रहे अन्य बूचड़खानों पर भी कार्रवाई हो सकती है।

देखिए वीडियो - योगी के CM बनते ही एक्शन में आया एंटी रोमियो स्कवैड; लेकिन कई जगह हुआ कानून का उल्लंघन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App