ताज़ा खबर
 

दिल्ली मेट्रो में 17 अगस्त को सबसे ज्यादा लोगों ने किया सफर, साथ ही बने 8 अन्य रिकॉर्ड

त्योहारों और मानसून ने बढ़ाए मुसाफिर, आम दिनों में रोजाना 27 लाख लोग करते हैं मेट्रो में सफर

Delhi Metro, Delhi government, Metro Stations, Detailed Project Report, DMRC, Railways, Delhi Transport, India News, Jansattaमेट्रो।

अगस्त का पहला पखवाड़ा त्योहारी और मानसूनी होने से राष्ट्रीय राजधानी में मेट्रो से लोगों ने रेकार्ड तोड़ यात्रा की। पिछले पखवाड़े में लगातार कई त्योहार होने के साथ ही साप्ताहिक छुट्टियों का तोहफा मिलने से लोगों ने दिल्ली में सैर-सपाटे का जमकर लुत्फ उठाया है। वहीं कॉलेजों में अब प्रवेश बंद हो गए हैं और कॉलेज में पढ़ाई शुरू हो गई है। इससे भी इन दिनों मेट्रो में मुसाफिरों की भीड़ बढ़ी है। मेट्रो अधिकारियों का कहना है कि एक अगस्त से 17 अगस्त के बीच मेट्रो से यात्रा करने के 9 रिकार्ड बने हैं। जिसमें 17 अगस्त बुधवार को रक्षाबंधन की पूर्व संध्या पर अब तक सबसे अधिक लोगों ने यात्रा की। उस दिन 33 लाख से अधिक लोगों ने मेट्रो से एक जगह से दूसरे जगह गए। इसके साथ ही 2, 3, 8 ,9 , 10, 11, 12, 16 व 17 अगस्त को अमूमन 31 लाख से ज्यादा लोगों ने मेट्रो से दिल्ली-एनसीआर में सफर किया

अगस्त के पहले पखवाड़े में भीड़ बढ़ने की संभावना को देखते हुए दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन (डीएमआरसी) ने कई दिन मेट्रो के फेरे में भी बढ़ोतरी की। गुरुवार को रक्षाबंधन के दिन मेट्रो ने 106 अतिरिक्त फेरे बढ़ाए थे। साथ ही शनिवार और रविवार को भी मेट्रो के फेरे बढ़े थे ताकि बढ़ती भीड़ के बीच लोग आसानी से त्योहार व छुट्टियां का आनंद ले सकें। जबकि लोगों ने रक्षाबंधन के दिन भीड़ से बचने के लिए एक दिन पहले ही बुधवार 17 अगस्त को बाजार और रिश्तेदारों के यहां जाना मुनासिब समझा। उस दिन 33,36,550 रिकार्ड मेट्रो की राइडरशिप थी। जो मेट्रो में एक दिन में सबसे अधिक यात्रा करने वाले लोगों की संख्या है। मेट्रो लाइन-3/4 द्वारका सेक्टर-21 से नोएडा सिटी सेंटर व वैशाली पर 17 अगस्त को ही सबसे अधिक 11,95,993 लोगों ने यात्रा किया। जबकि रक्षाबंधन के दिन मेट्रो का सफर सामान्य रहा, उस दिन 27.8 लाख लोगों ने मेट्रो से सफर किया। मेट्रो की तरफ से तैयारियों में फेरे बढ़ाने के साथ टिकट वेंडिंग मशीन व प्रवेश द्वार भी लगाए गए थे। जबकि दिल्ली-एनसीआर में 17 अगस्त को मेट्रो के अलावा सड़कों पर भी भारी भीड़ रही। जिससे धौलाकुआं, आनंद विहार और दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों के सड़कों पर घंटों जाम रहा।

Next Stories
1 DSGMC ने Black List से सिखों का नाम हटने पर जताई खुशी
2 ‘पंजाब के लिए दिल्ली को बर्बाद कर रही केजरीवाल सरकार’
3 विजेंद्र गुप्ता ने लगाया आरोप- सरकार ने 60 लाख मजदूरों के साथ किया धोखा
ये पढ़ा क्या?
X