ताज़ा खबर
 

नोटबंदी को भुनाएगी भाजपा, राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू, सर्जिकल स्ट्राइक को भी मुद्दा बनाने का फैसला

उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में विपक्ष के मुद्दों को राष्ट्रहित के नारों से ढक देने की तैयारी में है भारतीय जनता पार्टी।

Author नई दिल्ली | January 7, 2017 12:40 AM
उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में विपक्ष के मुद्दों को राष्ट्रहित के नारों से ढक देने की तैयारी में है भारतीय जनता पार्टी।

उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव में विपक्ष के मुद्दों को राष्ट्रहित के नारों से ढक देने की तैयारी में है भारतीय जनता पार्टी। नोटबंदी, कालाधन पकड़ने के लिए जारी छापेमारी और सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर विपक्ष के सवालों को भी यह पार्टी अपना हथियार बनाएगी। शुक्रवार को दिल्ली में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय अहम बैठक शुरू हुई, जिसमें पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, नोटबंदी और पाकिस्तान की सीमा में घुसकर भारतीय फौज के लक्षित हमले मोदी सरकार के दो ऐतिहासिक फैसले हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने ऐसे फैसले लिए हैं जो लोकप्रिय भले ही न हों पर राष्ट्र के लिए जरूरी हैं। इन फैसलों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अभिनंदन किया गया।
दो दिन तक चलने वाली बैठक शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के साथ खत्म होगी। नई दिल्ली के एनडीएमसी कंवेंशन सेंटर में शुरू हुई बैठक के पहले अमित शाह ने कहा, नोटबंदी के सरकार के फैसले के कारण अब एक-एक पैसे का हिसाब मौजूद है। उन्होंने कहा कि यह ऐतिहासिक फैसला है। केंद्र सरकार ने कालाधन और जाली नोटों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। हमें सिर्फ लोकप्रिय घोषणाओं पर ही जोर नहीं देना चाहिए, बल्कि ऐसे फैसलों का स्वागत करना चाहिए, जो राष्ट्र के लिए लंबे समय तक लाभकारी हों। बैठक के बाद भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने संवाददाताओं को उन मुद्दों की जानकारी दी, जिनपर राष्ट्रीय कार्यकारिणी के दौरान चर्चा की जा रही है।

अमित शाह ने कार्यकारिणी को अपने संबोधन में कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों पर हमला बोला और बाकी पेज 8 पर कहा कि विपक्ष इन मुद्दों पर नकारात्मक राजनीति कर रहा है। उसकी भूमिका विकास के क्रम में रुकावट पैदा करने वाली है। पहले कांग्रेस पार्टी पूछा करती थी कि आप कालाधन खत्म करने के लिए क्या कर रहे हैं? अब नोटबंदी के बाद कह रही है कि आपने यह क्यों किया? अमित शाह ने कहा कि यह बड़ा बदलाव है। नोटबंदी को अपार जनसमर्थन मिला है। विभिन्न राज्यों में हुए स्थानीय निकायों के चुनाव प्रमाण हैं, जिसमें भाजपा को जबरदस्त सफलता मिली है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद सरकार को अब ज्यादा राजस्व मिलेगा क्योंकि देश में अब एक-एक पैसे का हिसाब पारदर्शी है। जब सरकार के पास ज्यादा राजस्व होगा, तो गरीबों के लिए रोजी-शिक्षा- स्वास्थ्य के लिए खूब धन उपलब्ध होगा।

पाकिस्तान में घुसकर भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक को भारत सरकार की महत्त्पूर्ण उपलब्धि बताते हुए अमित शाह ने कहा कि इस कार्रवाई से भारत का कद बढ़ा है। पाकिस्तान का रवैया नहीं बदला तो आतंकवाद के खिलाफ भविष्य में भी सर्जिकल स्ट्राइक किए जाएंगे। भारत सरकार सेना की हर जरूरत को पूरा करने में जुटी है। दस-पंद्रह साल से हथियारों की खरीद रुकी हुई थी। इस सरकार ने हथियारों की खरीद में पारदर्शिता के साथ काम शुरू किया। भाजपा के संगठन को सबसे मजबूत बताते हुए उन्होंने कहा कि 11 करोड़ सदस्यों की संख्या के साथ यह दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है।

शाह ने बंगाल में चिटफंड घोटालों में तृणमूल कांग्रेस के सांसदों की गिरफ्तारी के बाद वहां भाजपा और तृणमूल समर्थकों के बीच राजनीतिक हिंसा बढ़ने का जिक्र किया और कहा कि भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ केंद्र की भाजपा शासित सरकार का अभियान जारी रहेगा। अमित शाह ने कहा कि वैचारिक रूप से नहीं लड़ पा रहे हैं तो बौखलाहट में तृणमूल समर्थक हिंसा कर रहे हैं। इसलिए संवैधानिक संस्थाओं और पार्टी दफ्तरों पर हमले किए जा रहे हैं। भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई में अगर तृणमूल कांग्रेस के नेता निर्दोष हैं तो उन्हें कानून के रास्ते खुद को पाक-साफ साबित करना चाहिए, न कि हिंसा का रास्ता अपनाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App