ताज़ा खबर
 

दिल्ली के मौसम का हाल: शहर में सांस लेना भी हुआ सेहत के लिए खतरनाक

एक्यूआइ अगर 500 से ज्यादा हो जाए तो इसे सबसे गंभीर स्तर और सेहत के लिए खतरनाक माना जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, यह बेहद ही खराब स्थिति है और इस स्थिति में लोगों में सांस संबंधित परेशानियां होती हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: January 16, 2021 5:25 AM
Air Pollutionप्रदूषण और कोहरे की वजह से दिल्ली में वायु गुणवत्ता गंभीर, राहत के आसार नहीं।

दिल्ली की हवा इस समय सर्द है, ठिठुरन से कोई राहत नहीं है और लगातार दूसरे दिन भी वायु गुणवत्ता की स्थिति ‘गंभीर’ श्रेणी में रहने से सांस लेना भी सेहत के लिए खतरनाक हो गया है। दिल्ली व एनसीआर में प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है और शुक्रवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआइ) 497 तक पहुंच गया। भारतीय वायु गुणवत्ता सेवा (सफर) के मुताबिक दिल्ली में सबसे बुरा हाल मथुरा मार्ग पर रहा। यहां पर एक्यूआइ का स्तर 615 तक पहुंच गया था जो गंभीर श्रेणी से भी अधिक है।

बताते चलें कि एक्यूआइ अगर 500 से ज्यादा हो जाए तो इसे सबसे गंभीर स्तर और सेहत के लिए खतरनाक माना जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, यह बेहद ही खराब स्थिति है और इस स्थिति में लोगों में सांस संबंधित परेशानियां होती हैं। शुक्रवार शाम को भी घने कोहरे और प्रदूषण के कारण धुंध नजर आई।

शुक्रवार को एक्यूआइ स्तर पूसा में 500, लोधी रोड पर 479, दिल्ली विश्वविद्यालय में 505, हवाईअड्डे पर 511, नोएडा में 539, मथुरा रोड पर 615, आया नगर में 441, आइआइटी दिल्ली में 497 व गुरुग्राम में 441 दर्ज किया गया। प्रदूषण व ठंड की वजह से ही शनिवार को सुबह हल्की धूप जरूर निकली लेकिन चार बजे के बाद से वातावरण में धुंधला-धुंधला असर देखने को मिला।

वातावरण में पीएम 2.5 का स्तर 479 व पीएम 10 का स्तर 482 रहा। शनिवार को ये दोनों ही स्तर 500 से अधिक होने की संभावना है। सफर के अनुसार शनिवार को भी इस स्थिति से कोई राहत मिलने का कोई आसार नहीं है। संभावना जताई जा रही है कि यह स्तर 470 तक पहुंच सकता है। सफर ने दिल्ली व एनसीआर में एक्यूआइ की सात श्रेणियां बनाई है।

यह श्रेणी शून्य से 50, 50 से 100, 100 से 200, 200 से 300, 300 से 40, 400 से 500 और 500 से अधिक हैं। जब तक एक्यूआइ का स्तर 200 तक बना रहता है तो यह सामान्य स्थिति में माना जाता है। लेकिन इससे अधिक होते ही हालात खराब होने लगते हैं।

गाजियाबाद, नोएडा, फरीदाबाद में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ की श्रेणी में जबकि गुरुग्राम में लगातार दूसरे दिन ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में दर्ज की गई। वायु गुणवत्ता सूचकांक ऐप समीर के अनुसार शुक्रवार को एक्यूआइ गाजियाबाद में 460, ग्रेटर नोएडा में 461, बागपत में 351, बुलंदशहर में 450, हापुड़ में 116, फरीदाबाद में 474, आगरा में 358, बल्लभगढ़ में 312, भिवानी में 140 और मेरठ में 375 दर्ज किया गया।

बताते चलें कि एक्यूआइ अगर 500 से ज्यादा हो जाए तो इसे सबसे गंभीर स्तर और सेहत के लिए खतरनाक माना जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, यह बेहद ही खराब स्थिति है और इस स्थिति में लोगों में सांस संबंधित परेशानियां होती हैं। शुक्रवार शाम को भी घने कोहरे और प्रदूषण के कारण धुंध नजर आई।

दिल्ली में कुछ दिन और रहेगा कोहरे और शीतलहर का सितम
दिल्ली में अब कुछ दिन शीतलहर और कोहरे का सितम रहेगा। राजधानी के कई इलाकों में शुक्रवार सवेरे से कोहरा छाना शुरू हो गया है। मौसम विभाग के अनुसार दो दिन तक और दिल्ली की सड़कों पर घना कोहरा वाहन चालकों के लिए परेशानी का सबब बनेगा। आगामी 18 तारीख के बाद से न्यूनतम तापमान के छह से सात डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है। दिन के तापमान में भी कमी रहने की वजह से सर्दी का एहसास होगा।

आंशिक रूप से बादल छाए रहने के कारण दिल्ली का न्यूनतम तापमान शुक्रवार को बढ़कर सामान्य से एक डिग्री अधिक 6.7 डिग्री सेल्सियस हो गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने यह जानकारी दी। आइएमडी के एक अधिकारी ने कहा कि कोहरा छाए रहने से सफदरजंग में दृश्यता घटकर 201 मीटर और पालम में 300 मीटर रह गई। शनिवार को शहर के कई हिस्सों में घने कोहरे का अनुमान जताया गया है।

आइएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि पश्चिमी हिमालय से आने वाली ठंडी और शुष्क उत्तरी-उत्तर पश्चिमी हवाओं से गुरुवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई। फिर हवा की दिशा बदलकर उत्तर-पूर्व की ओर हो गई। इसके अलावा, आंशिक रूप से बादल छाए रहने के कारण न्यूनतम तापमान में वृद्धि हुई है। एक जनवरी को, शहर में न्यूनतम तापमान 1.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

Next Stories
1 13 साल के लड़के की जबरन सेक्स चेंज करा 6 लोगों ने कई महीनों तक किया रेप, भीख मांगने पर किया मजबूर; FIR दर्ज
2 लता मंगेशकर की आवाज पर सवाल उठाने वाले ट्रोलर को अदनान सामी का जवाब- बंदर क्या जाने…
3 रिश्ते स्वाहा! घर में नहीं मिली एंट्री तो शख्स ने ससुराल को कर दिया आग के हवाले, 6 झुलसे
ये पढ़ा क्या?
X