ताज़ा खबर
 

Delhi शेल्टर होम : महिला का आरोप- पुरुषों के सामने बदलने पड़ते हैं कपड़े, प्राइवेट पार्ट में डालते हैं मिर्च

दिल्ली के कुतुब विहार इलाके में स्थित एक प्राइवेट शेल्टर होम में 50 साल की एक महिला ने सेक्सुअल हैरसमेंट और छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। पीड़िता ने बताया कि उन्हें पुरुष अधिकारियों के सामने कपड़े बदलने को मजबूर किया जाता है। साथ ही, प्राइवेट पार्ट्स में मिर्च पाउडर और नमक डाल दिया जाता है।

Author Updated: January 30, 2019 10:59 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

दिल्ली के कुतुब विहार इलाके में स्थित एक प्राइवेट शेल्टर होम में 50 साल की एक महिला ने सेक्सुअल हैरसमेंट और छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। बता दें कि 23 जनवरी को दिल्ली महिला आयोग की टीम ने इस शेल्टर होम का दौरा किया था। उस दौरान महिला ने आपबीती सुनाई। पीड़िता ने बताया कि उन्हें पुरुष अधिकारियों के सामने कपड़े बदलने को मजबूर किया जाता है। साथ ही, प्राइवेट पार्ट्स में मिर्च पाउडर और नमक डाल दिया जाता है। फिलहाल महिला को दूसरे शेल्टर होम भेजकर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

ऐसे हुआ खुलासा : दिल्ली महिला आयोग की सदस्य प्रोमिला गुप्ता के नेतृत्व में एक टीम ने 23 जनवरी को इस शेल्टर होम का दौरा किया था। जांच के दौरान रिकॉर्ड बुक में दर्ज संख्या से ज्यादा महिलाएं और लड़कियां शेल्टर होम में मिलीं। साथ ही, पता चला कि शेल्टर होम के अधिकारियों का काम न करने और उनका आदेश न मानने पर महिलाओं को कठोर दंड दिया जाता है। आयोग का कहना है कि इस शेल्टर होम का लाइसेंस रद्द करने की सिफारिश की गई है। यहां से पहले भी 4 लड़कियों को छुड़ाया जा चुका है।

पीड़िता ने सुनाई आपबीती : 50 साल की एक महिला ने महिला आयोग की टीम को बताया, ‘‘शेल्टर होम के पुरुष अधिकारी उनसे जबरन अपने काम कराते हैं। विरोध जताने पर महिलाओं के प्राइवेट पार्ट्स में मिर्च पाउडर और नमक डाला जाता है। इसके अलावा महिलाओं के साथ मारपीट होती है और उन पर गरम पानी डाला जाता है। इस महिला ने 5 लोगों के खिलाफ आरोप लगाया है, जिनमें दो कपल भी हैं।

शेल्टर होम के अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज : पीड़िता की शिकायत पर महिला आयोग की टीम ने मामले की जानकारी दिल्ली पुलिस को दी। इसके बाद पीड़िता को थाने ले जाया गया और छावला थाने में शेल्टर होम के अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया। महिला को फिलहाल दूसरे शेल्टर होम में रखा गया है। दिल्ली महिला आयोग की चीफ स्वाति जय हिंद का कहना है कि जो भी व्यक्ति शेल्टर होम में रहने वालों पर अत्याचार कर रहे हैं। उन्हें सख्त सजा मिलनी चाहिए। साथ ही, ऐसे शेल्टर होम के लाइसेंस रद्द होने चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Kumbh: योगी के संगम नहाने पर शशि थरूर का तंज- गंगा भी स्वच्छ रखनी है और पाप भी यहीं धोने हैं
2 UP : योगी के मंत्री के बिगड़े बोल, कहा- राहुल गांधी ‘रावण’ और प्रियंका गांधी ‘शूर्पणखा’
3 राहुल गांधी का दावा- गोवा के CM मनोहर पर्रिकर ने मुझसे कहा कि मोदी ने किया ‘खेल’