ताज़ा खबर
 

केजरीवाल सरकार और अधिकारियों में फिर होगी जंग? IAS से बोले मंत्री- करप्‍शन में पकड़वा दूंगा, लिमिट में रहो

विपक्ष के एक विधायक द्वारा सवाल किया गया था कि बुराड़ी ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी में मुख्यमंत्री के निरिक्षण के दौरान क्या कुछ अनियमितताएं पाई गईं? इसके जवाब में आयुक्त ने 'नहीं' लिखा था। आयुक्त का जवाब सुनकर मंत्री जी ने कहा कि वहां भ्रष्टाचार की बात लिखी जानी चाहिए थी।

दिल्ली परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (फोटो सोर्स- एएनआई ट्विटर)

दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (आप) सरकार और अधिकारियों में एक बार फिर तनाव बढ़ता दिखाई दे रहा है। दरअसल, 6 अगस्त यानी सोमवार से दिल्ली विधानसभा का सत्र शुरू होने जा रहा है, ऐसे में विधायकों द्वारा पूछे गए सवालों के जवाबों को अंतिम रूप देने के लिए 3 अगस्त को एक बैठक का आयोजन किया गया। जहां परिवहन विभाग के मंत्री कैलाश गहलोत और परिवहन सचिव (आयुक्त) वर्षा जोशी के बीच बहस हो गई। मंत्री जी ने गुस्से में आईएएस अधिकारी वर्षा जोशी से कह दिया कि वह उन्हें करप्शन में पकड़वा देंगे, इसलिए वे लिमिट में रहें।

दरअसल, विपक्ष के एक विधायक द्वारा सवाल किया गया था कि बुराड़ी ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी में मुख्यमंत्री के निरिक्षण के दौरान क्या कुछ अनियमितताएं पाई गईं? इसके जवाब में आयुक्त ने ‘नहीं’ लिखा था। आयुक्त का जवाब सुनकर मंत्री जी ने कहा कि वहां भ्रष्टाचार की बात लिखी जानी चाहिए थी। उन्होंने कहा कि वहां दलालों के घूमने और बिना पैसे दिए काम न करने की व भ्रष्टाचार की बात लिखी जानी चाहिए थी।

मीटिंग में मौजूद अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के मुताबिक वर्षा जोशी ने मंत्री गहलोत की बातें मानने से इनकार कर दिया। ऐसे में मंत्री जी ने कहा, ‘मुझे मत सिखाओ, मैं तुम्हें करप्शन में पकड़वा दूंगा। नौकरी करना सिखा दूंगा।’ इस पर आयुक्त ने कहा कि ऐसा है तो फिर मुख्यमंत्री जी ने जो नोट दिया है उसे जवाब में लगा देते हैं। आयुक्त की बात सुनकर मंत्री जी और भड़क गए और गुस्से में कहा, ‘बहुत ज्यादा बोल रही हो, लिमिट में रहो।’ इसके साथ ही कैलाश गहलोत ने आयुक्त को मीटिंग से बाहर जाने को कहा और बाद में वे खुद उठकर चले गए।

इस मामले को फिलहाल परिवहन विभाग के अधिकारियों द्वारा जमकर उठाया जा रहा है। अधिकारी मांग कर रहे हैं कि मंत्री जी आयुक्त को बिना गलती अपमान करने के लिए उनसे माफी मांगें। अधिकारियों और स्टाफ का एसोसिएशन ‘जॉइंट फोरम ऑफ एसोसिएशन ऑफ ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट’ ने ज्ञापन सौंपते हुए मंत्री जी से माफी मांगने की मांग की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App