ताज़ा खबर
 

दिल्‍ली दंगा: कपिल मिश्रा को राहत, पुलिस ने कोर्ट में कहा- भाषणों से दंगा भड़कने के सबूत अब तक नहीं

हाईकोर्ट में पुलिस का बयान उन याचिकाओं के जवाब में आया है जिनमें आरोप लगाये गये थे कि कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा और अभय वर्मा समेत भाजपा नेताओं ने नफरत भरे भाषण दिये थे जिससे हिंसा भड़की।

Author Edited By Anil Kumar नई दिल्ली | Published on: July 14, 2020 8:14 AM
Delhi Riot, Delhi High court, kapil mishraउत्तरपूर्वी दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों कम से कम 53 लोगों की जान चली गयी थी। (फाइल फोटो)

दिल्ली दंगा मामले में भाजपा नेता कपिल मिश्रा अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा और अभय वर्मा समेत भाजपा नेताओं को बड़ी राहत मिली है। मामले की सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस ने हाईकोर्ट से कहा कि उत्तरपूर्वी दिल्ली में हुए दंगों में उसे अब तक की जांच में ऐसे कार्रवाई योग्य कोई सबूत नहीं मिले हैं जिससे यह साबित हो कि किसी प्रमुख नेताओं के भाषण से दंगा भड़का हो या दंगे में उनकी कोई भूमिका हो।

पुलिस ने यह भी कहा कि दंगों में अभी तक किसी पुलिस अधिकारी के शामिल होने की बात भी सामने नहीं आई है। मालूम हो कि उत्तरपूर्वी दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों कम से कम 53 लोगों की जान चली गयी थी। हाईकोर्ट में पुलिस का बयान उन याचिकाओं के जवाब में आया है जिनमें आरोप लगाये गये थे कि कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा और अभय वर्मा समेत भाजपा नेताओं ने नफरत भरे भाषण दिये थे जिससे हिंसा भड़की।

एक अन्य अर्जी में आरोप लगाया गया था कि राहुल गांधी, सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा समेत कांग्रेस नेताओं तथा मनीष सिसोदिया, अमानतुल्ला खान जैसे आप नेताओं तथा एआईएमआईएम विधायक वारिस पठान ने भी घृणाभरे भाषण दिये थे।

इन अर्जियों पर जवाब में पुलिस ने अपने हलफनामे में कहा कि यह स्पष्ट किया जाता है कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के दंगे से जुड़े उपरोक्त सभी मामलों में अब तक की जांच में ऐसा कोई कार्रवाई योग्य सबूत सामने नहीं आया है जो रिट याचिकाओं में उल्लेखित व्यक्तियों की दंगा भड़काने या उसमें हिस्सा लेने में उनकी भूमिका का संकेत करता है।

सोमवार को मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति प्रतीक जालान की पीठ के सामने यह हलफनामा दिया गया। इस पर आगे सुनवाई 21 जुलाई को होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 राहुल-सोनिया खेमे को है भनक- बीजेपी के संपर्क में हैं सचिन पायलट, सरकार बचाने के लिए कांग्रेस ने बनाया है यह प्‍लान
2 राजस्‍थान कांग्रेस मुख्‍यालय से हटा सचिन पायलट का पोस्‍टर, राहुल-सोनिया खेमे को है बीजेपी के संपर्क में होने की भनक
3 गुजरातः कर्फ्यू उल्लंघन पर मंत्री के बेटे को रोका था, कॉन्सटेबल का ट्रांसफर; हड़का कहा था- वर्दी तुम्हारे पिता की गुलामी को नहीं पहनी
ये पढ़ा क्या?
X